Why Not a single student of Mohali district in merit list, Why Not a single student of Mohali district in merit list,
BREAKING NEWS
Search

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Pseb Mohali

VIP अध्यापकों वाले जिले मोहाली का एक भी विद्यार्थी मैरिट सूची में नहीं

415

मोहाली  : Punjab School Education Board द्वारा आज 10वीं कक्षा की जारी की गई मैरिट सूची में सबसे बड़ा वी.आई.पी. अध्यापकों वाला जिला मोहाली बुरी तरह पिछड़ गया है। मोहाली का एक भी विद्यार्थी मैरिट सूची में नहीं आया।

दिलचस्प बात यह है कि मोहाली जिला चंडीगढ़ के नजदीक होने के कारण हरेक अध्यापक की इच्छा इस जिले में बदली करवाने की रहती है। जितने भी पुलिस या प्रशासनिक अधिकारियों की पत्नियां अध्यापक लगी हुई हैं उनमें से ज्यादातर मोहाली जिले में तैनात हैं।

परन्तु मोहाली का नतीजा अक्सर सबसे बुरा आता है इसके बावजूद इन अध्यापकों के विरुद्ध कोई भी अधिकारी कार्रवाई नहीं करता। शायद ऊपरी पहुंच या राजनीतिक प्रैशर करके ये अध्यापक लंबे समय से मोहाली में ही टिके हैं। मोहाली में ही शिक्षा बोर्ड का दफ्तर है परन्तु शर्मनाक बात यह है कि इस बार मोहाली का एक भी विद्यार्थी मैरिट सूची में स्थान प्राप्त नहीं कर सका।

 

जिला लुधियाना के हर बार की तरह इस बार भी सबसे अधिक 94 विद्यार्थी मैरिट सूची में आए हैं। शिक्षा बोर्ड ने 650 में से 611 या इससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले 401 परीक्षार्थियों की मैरिट सूची जारी की है जिसमें लुधियाना पहले स्थान पर रहा है। पटियाला के 42, होशियारपुर के 32, संगरूर के 31, जालंधर के 30 और अमृतसर व मानसा के 18-18 परीक्षार्थी मैरिट सूची में स्थान पाने में कामयाब हैं।

बरनाला और मोगा के 17-17, फाजिल्का, गुरदासपुर और शहीद भगत सिंह नगर के 15-15, श्री मुक्तसर साहिब के 11, बठिंडा और फतेहगढ़ साहिब के 10-10, कपूरथला के 8, पठानकोट के 6, फिरोजपुर के 5, फरीदकोट के 4 और तरनतारन के 3 परीक्षार्थी मैरिट सूची में आए हैं। जिला रूपनगर और मोहाली का एक भी परीक्षार्थी मैरिट सूची में नहीं आया।

 

नतीजों में आज कई दिलचस्प तथ्य देखने को मिले हैं। पंजाब के विद्यार्थियों का मातृ भाषा का नतीजा जहां 91.77 प्रतिशत रहा है वहां अरबी का नतीजा 100 प्रतिशत रहा है।

कंप्यूटर विज्ञान, इलैक्ट्रानिक टैक्नोलॉजी, रिपेयर एंड मैंटीनैंस, निटिंग (हैड एंड मशीन), कमर्शियल आर्ट, मैनुफैक्चरिंग ऑफ स्पोर्ट्स गुड्ज, मैन्युफैक्चरिंग ऑफ लैदर गुड्ज, सेहत विज्ञान और शरीर शिक्षा व खेल ऐसे विषय हैं जिनका नतीजा 100 प्रतिशत रहा है यह अलग बात है कि इन विषयों में विद्यार्थी की संख्या 1 से लेकर 40 तक ही है परन्तु यह सभी ही पास हो गए इस लिए यह नतीजा 100 प्रतिशत रहा।

मुख्य विषयों में से अंग्रेजी का नतीजा चिंताजनक है जो कि 73.31 प्रतिशत रहा है परन्तु हिंदी का नतीजा 87.02 प्रतिशत रहा है जोकि पहले से काफी अच्छा है। गणित का नतीजा 82.02 प्रतिशत, विज्ञान का 86.36 प्रतिशत, कंप्यूटर साइंस का 83.87 प्रतिशत, सामाजिक शिक्षा का 80.48 प्रतिशत और सेहत व शारीरिक शिक्षा का नतीजा 92.35 प्रतिशत रहा है।

 

फिजीक्स में पी.एच.डी. करके रिसर्च करना चाहता है टॉपर गुरप्रीत

: पी.एस.ई.बी. 10वीं के परिणाम में 98 प्रतिशत अंक लेकर पहले स्थान पर रहने वाले श्री हरकृष्ण साहिब पब्लिक स्कूल डाबा कालोनी के छात्र गुरप्रीत सिंह के राज्य में टॉप करने की खबर सबसे पहले  स्कूल प्रिंसीपल पारसमणि को फोन करके दी। मंगलवार का दिन टॉपर गुरप्रीत के लिए किसी सपने से कम नहीं है। राज्य में टॉप करने वाले इस होनहार विद्यार्थी को विश्वास ही नहीं हो रहा कि उसने इतनी बड़ी अचीवमैंट हासिल कर ली है।

छात्र गुरप्रीत को गणित व साइंस जैसे मुश्किल विषयों से डर नहीं लगता जबकि एस.एस.टी., पंजाबी व हिंदी जैसे विषयों से इसे घबराहट है। अपनी कामयाबी का श्रेय प्रिंसीपल व अध्यापकों को देते हुए गुरप्रीत ने कहा कि वह भविष्य में फिजीक्स में पी.एच.डी. करके रिसर्च करना चाहता है।

 

जैसमीन बनना चाहती है सॉफ्टवेयर इंजीनियर 

: पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा घोषित 10वीं श्रेणी के परिणामों में शिशु मॉडल सी.सै. स्कूल की छात्रा जैसमीन कौर ने 650 अंकों में से 636 अंक प्राप्त कर पंजाब भर में से दूसरा स्थान प्राप्त करने का गौरव हासिल किया।

निकटवर्ती गांव मेतले की निवासी जैसमीन कौर पुत्री सुखबीर सिंह ने खुशी भरे अंदाज में कहा कि उसकी इस कामयाबी के पीछे उसके माता-पिता, दादी व चाचा सहित स्कूल स्टाफ का अहम रोल है। उसकी तमन्ना है कि वह 12वीं कक्षा के परिणामों में पंजाब भर में अव्वल रहे। जैसमीन कौर ने कहा कि वह इसी तरह टॉप करके सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनकर अपने माता-पिता का नाम रोशन करना चाहती है।

आज जब जैसमीन के पंजाब भर में से दूसरे स्थान पर रहने की खबर आई तो उसके घर में बधाई देने वालों को तांता लग गया।

पुनीत बनना चाहती है आई.ए.एस.

: पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से घोषित किए गए परिणामों में 10वीं कक्षा में पंजाब में तीसरे व जिले में पहले स्थान पर रहकर जिला फतेहगढ़ साहिब का नाम रोशन करने वाली गुरु नानक पब्लिक स्कूल खंट मानपुर की छात्रा पुनीत कौर ने कहा कि उसके मैरिट लिस्ट में आने का श्रेय माता-पिता व अध्यापकों को जाता है।
उसने परीक्षा के लिए कोई कोङ्क्षचग नहीं ली, जो भी स्कूल में अध्यापकों ने पढ़ाया उसे घर जाकर याद किया। उसने बताया कि वह 12वीं में भी टॉप करेगी। वह आई.ए.एस. अफसर बनकर देश की सेवा करना चाहती है।

जैमिनी पद्धति के अनुसार आमत्याकारक की मुख्य या उप अवधि की दशा करियर की दृष्टि से सर्वश्रेष्ठ रहती है। जैकलिन को इस समय तुला की दशा चल रही है जोकि दिसम्बर 2017 से शुरू हुई है तथा यह अगस्त 2018 तक चलेगी। गोचर में बृहस्पति तथा शनि का भ्रमण इस समय उनके चार्ट में शुक्र को देख रहा है, जो तुरन्त विवाह होने की संभावनाओं को प्रदर्शित कर रहा है। जैकलिन फर्नांडीज का इस योग में विवाह होना तय है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *