Fertility Clinic doctor using own sperm for pregnancy Fertility Clinic doctor using own sperm for pregnancy
BREAKING NEWS
Search

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Fertility Clinic

Canada में डॉक्टर पर प्रेग्नेंसी करने के लिए खुद का स्पर्म इस्तेमाल करने का आरोप

606

Fertility Clinic- हमने धरती पर डॉक्टरों को भगवान का दर्जा दिया गया है क्योंकि इश्वर तो हमे सिर्फ जन्म देता है लेकिन डॉक्टर हर बार हमारी जान बचाता है लेकिन कभी कभी ऐसा कुछ होता है जब धरती के भगवान पर से भी लोगों का भरोसा उठ जाता है | आज हम आपको एक ऐसे ही मामले के बारे में बताने वाले है जिसे जानने के बाद आप भी हैरान रह जायेंगे |

 अभी हाल ही में Canada में एक Fertility Clinic चलाने वाले  डॉक्टर का अजीबो गरीब कारनामा सामने आया है। उस पर अपने ही  मरीजों के प्रेग्नेंसी प्रॉब्लम को हल करने के लिए खुद का स्पर्म इस्तेमाल करने का आरोप लगा है कनाडा के एक फर्टिलिटी (प्रजनन) डॉक्टर पर गर्भाधान के लिए अपने ही या अनजाने स्पर्म के इस्तेमाल के मामले में दर्जनों लोगों ने मुक़दमा दर्ज कराया है|

डॉक्टर नोरमान ब्रॉविन पर पिछले साल नवंबर में मुक़दमा दर्ज कराया गया था. एक डीएनए टेस्ट में पता चला था कि नोरमान अपनी ही मरीज़ की बेटी के पिता हैं जिससे ये साफ हो गया है की वे महिलाओं को आपने ही स्पर्म से प्रेग्नेंट कर देते हैं वो भी अनजाने में बिन बताये |

इसके अलावा 11 अन्य लोगों ने दावा किया है कि नोरमान ही उनकी संतान के जैविक पिता हैं. नोरमान के ख़िलाफ़ 50 लोगों के एक समूह ने शिकायत की है कि उनकी संतान का डीएनए उस स्पर्म के डीएनए से अलग है जिसका उन्होंने चुनाव किया था. डॉक्टर के ख़िलाफ़ ऐसी शिकायतें 1970 के दशक तक जा रही हैं.

ये मामले दो Fertility Clinic के हैं- ओटावा और ओंटारियो. डॉ ब्रॉविन के वकील केरॉन हैमवे ने नए आरोपों पर टिप्पणी से इनकार कर दिया है. मीडिया रिपोर्टस के अनुसार इस मामले में जब डॉक्टर बारविन के वकीलों से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने जवाब देने से मना कर दिया। डीएनए टेस्ट में पता चला है जो कि 11 लोग फर्टिलिटी क्लिनिक गए थे उन्होंने अपनी संतान का डीएनए टेस्ट कराया तो पता चला कि गर्भाधान में डॉक्टर ने अपने ही या किसी और के स्पर्म का इस्तेमाल किया था

एक रिपोर्ट के मुताबिक करीब 11 लोग Fertility Clinic गए थे जहां उन्होंने अपने बच्चे का DNA टेस्ट करवाया था. DNA की रिपोर्ट में पता चला कि महिलाओं के गर्भधान में डॉक्टर ने अपना या किसी और के ही स्पर्म का इस्तेमाल किया है. इसके अलावा कई लोगों ने तो ये भी शिकायत की है कि जब उन्होंने अपने बच्चे का DNA टेस्ट करवाया तो उन्हें पता चला कि उनके बच्चे का पिता तो कोई और ही है|हालांकि वकीलों का कहना है कि इनके जैविक पिता का पता नहीं है.
इसके अलावा 35 और लोगों ने शिकायत की है कि उन्होंने जिस स्पर्म का चुनाव किया था उससे उनकी संतान का डीएनएए मैच नहीं कर रहा है.नवंबर में यह मामला तब सामने आया था जब डेनियल और डेविना डिक्सन के साथ उनकी बेटी रिबेका ने डॉक्टर के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराई थी. इस परिवार ने अपनी बेटी रिबेका का डीएनए टेस्ट कराया तो पता चला कि उनकी बेटी का जैविक पिता ख़ुद डॉक्टर नोरमान हैं.इस परिवार ने 1989 में डॉ नोरमान से गर्भाधान को लेकर संपर्क किया था और ठीक एक साल बाद रिबेका का जन्म हुआ था.

ये मामला नवंबर में तब सामने आया था जब एक बच्ची के माता-पिता ने उसका DNA टेस्ट करवाया तो पता चला कि उस बच्ची का पिता कोई और नहीं बल्कि खुद वो डॉक्टर ही है. बच्ची के माता-पिता को शक इस बात से हुआ क्योकि उस बच्ची की आँखे बिलकुल वैसी ही नीली है जैसी की डॉक्टर नोरमान की है.डेविना को शक रिबेका की भूरी आंखों से हुआ क्योंकि डिक्सन की आंखें नीली हैं.




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *