पैट्रोल पंप पर 15 मिनट तक मौत का नंगा नाच - AZAD SOCH पैट्रोल पंप पर 15 मिनट तक मौत का नंगा नाच - AZAD SOCH
BREAKING NEWS
Search

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

पैट्रोल पंप पर 15 मिनट तक मौत का नंगा नाच

718

Patiala : बहादुरगढ़ कस्बे से कुछ दूरी पर स्थित गांव चमारहेड़ी में स्थित पैट्रोल पंप पर बीती रात बेखौफ लुटेरों ने लगभग 15 मिनट तक मौत का नंगा नाच किया। लुटेरे लगभग 10.02 बजे आए और इसके बाद पहले पैट्रोल पंप के कारिंदे से कैश मांगने से लेकर फरार होने तक एक जगह पर 15 मिनट से ज्यादा समय तक रहे।

हैरान करने वाली बात यह है कि राजपुरा रोड पर पूरी रात ट्रैफिक चलता है और किसी ने भी कोई वाहन नहीं रोका और सरेआम गोलियां चला कर मारे जा रहे निर्दोषों की जानकारी भी पुलिस तक को नहीं दी।
लुटेरों ने 2 व्यक्तियों को गोली मारी और जिसमें समय पाकर बेखौफ होकर पहले पैट्रोल पंप के कारिंदे और फिर घायल दविंद्र सिंह को लूटा भी। इस दौरान कोई भी लुटेरों  के पास नहीं फटका। सी.सी.टी.वी. फुटेज में देखने से पता लगता है कि जो घायल व्यक्ति तेल डलवाने वाली मशीन के पास पड़ा तड़प रहा होता है, दहशत के कारण उसकी सहायता के लिए भी कोई आगे नहीं आता। लुटेरों की दहशत का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि उनके फरार होने के बाद एक स्कूटर सवार  पंप पर आता है और  वह तड़पते व्यक्ति को छोड़ कर बिना तेल डलवाए ही वहां से भाग जाता है। दहशत के कारण  पास वाले ढाबे में बैठे व्यक्ति भी भाग गए थे।

पैट्रोल पंप की सुरक्षा पर फिर उठे सवाल
पैट्रोल पंपों की सुरक्षा पर एक बार फिर से सवाल उठने शुरू हो गए हैं। पैट्रोल पंप पर कैश का काम होने के बावजूद किसी तरह की कोई सुरक्षा नहीं होती। जिसके कारण अक्सर लुटेरों के निशाने पर पैट्रोल पंप रहते हैं। हालांकि पुलिस की तरफ से हर घटना के बाद  पैट्रोल पंपों वालों को प्राइवेट गार्ड तैनात करने के निर्देश दिए जाते हैं, परंतु समय बीतने के बाद इस पर अमल कम ही होता नजर आता है।

पुलिस ने सी.सी.टी.वी. फुटेज कब्जे में लेकर जारी किया अलर्ट
घटना की जानकारी मिलने के बाद एस.पी. इन्वैस्टिगेशन हरविंद्र सिंह विर्क , एस.पी. सिटी केसर सिंह, डी.एस.पी. डी. सुखमिंद्र सिंह चौहान, थाना सदर पटियाला के एस.एच.ओ. इंस्पैक्टर जसविंद्र सिंह टिवाणा पहुंचे। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जहां अलर्ट जारी किया, वहीं पहले पैट्रोल पंप और फिर राजपुरा रोड पर धरेड़ी जट्टां के पास लगे टोल प्लाजा की सी.सी.टी.वी. फुटेज अपने कब्जे में ली। पुलिस की तरफ से मामले की जांच भी बीती रात से ही शुरू कर दी गई है। सी.सी.टी.वी कैमरे में तीन हथियारबंद लुटेरे ही दिखाई दिए। तीनों ने मुंह बांधे हुए थे। जिनमें से एक का कुछ हद तक चेहरा साफ भी हो रहा है।

लूट की घटना के साथ दहशत का माहौल
चाहे लूट सिर्फ  पांच हजार की बताई जा रही है, परंतु जिस तरीके से बेखौफ होकर लुटेरों ने इस घटना को अंजाम दिया उसके साथ पूरे इलाके में दहशत वाला माहौल बन गया। क्योंकि जिस तरह देर शाम 10 बजे घटना हुई, इस समय तक तो आम तौर पर न केवल पैट्रोल पंप बल्कि बाकी दुकानें और अन्य कारोबारी संस्थाएं भी खुली  रहती हैं। जिस तरह से लुटेरों ने धावा बोला उसके साथ आम कारोबारियों में डर पाया जा रहा है।

पोस्टमार्टम के बाद लाश को किया वारिसों के हवाले
पुलिस ने रात को दोनों लाशों को सरकारी राजिन्द्रा अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया  था और आज सुबह पोस्टमार्टम के बाद लाशों को वारिसों के हवाले कर दिया गया।

एक साल पहले भी इसी सड़क पर लुटेरों ने दिया था 1 करोड़ 33 लाख रुपए की लूट को अंजाम
पटियाला-जीरकपुर रोड पर ही पिछले साल 2 मई को हथियारबंद लुटेरों ने हथियारों की नोक पर बैंक की कैश वैन को लूट लिया था। लुटेरे कैश वैन में से 1 करोड़ 33 लाख रुपए लूट कर ले गए थे। जिसका अभी तक कुछ अता-पता नहीं है। पुलिस ने कई बार लूट की वारदात को हल करने के नजदीक पहुंचने के दावे किए थे, परंतु अभी भी लुटेरे उनकी पकड़ से बाहर हैं।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *