New Driving Licence : 1 अक्टूबर से बदल जाएगा आपका ड्राइविंग लाइसेंस New Driving Licence : 1 अक्टूबर से बदल जाएगा आपका ड्राइविंग लाइसेंस
BREAKING NEWS
Search
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
New Driving Licence

1 अक्टूबर से बदल जाएगा आपका ड्राइविंग लाइसेंस

103

NEW DELHI : भारत सरकार सभी India में New Driving Licence (DL बनवाने के लिए नियमों को और आसान बनाने की योजना बना चुकी है . 1 अक्टूबर 2019 से पूरे देश में ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence ) और vehicle Registration Certificate (RC) एक जैसे होंगे.

सरकार Driving Licence (DL) बनवाने के नियमों को आसान बनाने के लिए लगातार काम कर रही है. संसद में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने Driving Licence और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी) बनाने के नए नियम को लेकर जानकारी दी है.

पुरे भारत में एक जैसे होंगे ड्राइविंग लाइसेंस

1 अक्टूबर 2019 से पूरे देश में Driving Licence (DL) और वाहनों के Registration Certificate (RC) एक जैसे होंगे. अब ऐसा नहीं होगा के किसी स्टेट में Driving Licence अलग अलग हों .

मतलब साफ है कि अब हर राज्य में अब DL और आरसी का कलर एक जैसा ही होगा और उनमें जानकारियां समान जगह पर ही होंगी.

उन्होंने बताया के देश में रोजाना करीब 32,000 के करीब New Driving Licence बनते हैं या फिर Renew DL किए जाते हैं. इसी के साथ साथ हर रोज़ करीब 43,000 गाड़ियां रजिस्टर या री-रजिस्टर होती हैं.

New Driving Licence में और RC में 15-20 रुपये से अधिक का खर्च नहीं होगा

अब जो लोग नए ड्राइविंग लाइसेंस बनाएंगे या आरसी बनाएंगे उनका सिर्फ 15-20 रुपये से अधिक का खर्च नहीं होगा. ट्रांसपोर्ट मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक इस बदलाव से ट्रैफिक का जिम्मा संभालने वालों को भी सहूलियत होगी.

अब बदल जायेगा आपका पुराना Driving Licence

सरकार के इस फैसले से Driving Licence और RC में जानकारियों को लेकर पहले भ्रम की स्थिति पैदा होती थी जो अब नहीं रहेगी . अब तक हर राज्य अपनी सुविधा के अनुसार ही DL और RC का फॉर्मेट तैयार करता है. जिसकी वजह से किसी राज्य में कुछ जानकारियां अगर डीएल के फ्रंट पर हैं तो कुछ राज्यों में वहीं जानकारियां पीछे की ओर होती हैं. लेकिन अब सभी राज्यों में जो भी डीएल या आरसी बनेंगे, उनमें एक जैसी जगह पर ही जानकारी दी जाएंगी.

मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक इस बारे में उनके मंत्रालय ने 30 अक्टूबर 2018 को ड्राफ्ट नोटिफिकेशन जारी करके सभी पक्षों से इस बारे में राय मांगी थी. सभी पक्षों से आने वाले सुझावों के आधार पर अब सरकार ने नया नोटिफिकेशन जारी किया है.

अब ड्राइविंग लाइसेंस बनेंगे और स्मार्ट


अब जो नए Smart Driving Licence (DL) और RC बनेगे उन में Microchip और क्यूआर कोड होंगे जिसके चलते अतीत में किए गए नियम उल्लंघनों को छिपाना लगभग असंभव होगा.

इस क्यूआर कोड के जरिये केंद्रीय Online Driving Licence से ड्राइवर या वाहन के पिछले रिकॉर्ड को एक Device के जरिये पढ़ा जा सकेगा.

Traffic Police को उनके पास मौजूद डिवाइस में कार्ड डालते ही या QR Code को स्कैन करते ही गाड़ी और ड्राइवर की सारी डिटेल मिल जाएंगी.
इस नोटिफिकेशन के मुताबिक सभी राज्यों को एक अक्टूबर से Driving Licence और वाहनों की रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट पीवीसी आधारित बनाने होंगे या फिर पॉलीकार्बोनेट होंगे.

इनमें Chip भी लगी होगी और जानकारी भी उसी फॉर्मेट में होगी, जिसमें केंद्र सरकार ने नोटिफाई किया है.

ALSO READ : AZAD SOCH PUNJABI NEWSPAPER




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *