Batala factory blast : Batala की पटाखा फैक्ट्री में हुए धमाके से 21 लोगों की मौत Batala factory blast : Batala की पटाखा फैक्ट्री में हुए धमाके से 21 लोगों की मौत
BREAKING NEWS
Search
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
ਬਟਾਲਾ

Batala की पटाखा फैक्ट्री में हुए धमाके से 21 लोगों की मौत

46

दोपहर करीब 3.30 बजे हुआ ब्लास्ट

Batala के रिहायशी इलाके की एक इमारत में चल रही थी पटाखा फैक्ट्री

BATALA: संजीव : Batala Factory Blast- Gurdaspur के बटाला City में बुधवार दोपहर करीब 3.30 बजे एक पटाखा फैक्ट्री (Firecracker factory) में धमाका हो गया। DC Gurdaspur विपुल उज्ज्वल ने बताया कि हादसे में अभी तक 21 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है करीब 25 लोगों के मलबे के नीचे दबे होने की आशंका है

Batala Blast : 25 से ज्यादा के फंसे होने की आशंका

करीब 25 लोगों के मलबे के नीचे दबे होने की आशंका है। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। अंधेरा होने के कारण राहत और बचाव कार्यों में मुश्किल आई है। धमाका इतना तेज था कि 500 मीटर दूर स्थित एक मॉल के शीशे चटक गए।

मुख्यमंत्री गुरुवार को बटाला जाएंगे

Punjab केCM Amrinder Singh और President Punjab state Congress Party सुनील जाखड़ गुरुवार को Batala जायेंगे । इससे पहले Chief Minister ने Cabinet Minister Tript Rajinder Bajwa को Batala पहुंच कर Rescue Operation की निगरानी करने के लिए कहा है।

धमाका इतना तेज़ था कि 500 मीटर दूर स्थित मॉल के शीशे टूटे

चश्मदीदों के मुताबिक, बटाला-जालंधर रोड पर हंसली इलाके में स्थित पटाखा फैक्ट्री में हुए धमाके की आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनाई दी। आसपास की कई इमारतें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं। घटनास्थल से करीब 500 मीटर दूर स्थित मॉल के तीन फ्लोर के शीशे टूट गए। एक अन्य शोरूम भी क्षतिग्रस्त हुआ है। हादसे के बाद फैक्ट्री के नजदीक स्थित एक मोटर की वर्कशॉप के अलावा आसपास खड़ी 10 से ज्यादा कारें मलबे में दबी हुई हैं।

ALSO READ: ਕੁਝ ਹੀ ਘੰਟਿਆਂ ਵਿੱਚ ਯੂ-ਟਿਊਬ ਤੇ ਛਾਇਆਂ “ ਨਿੱਕਾ ਜ਼ੈਲਦਾਰ 3” ਦਾ ਟ੍ਰੇਲਰ

Batala factory blast: एक साल पहले भी हुआ था धमाका

SSP Gurdaspur उपिंदरजीत सिंह घुम्मन ने बताया- फैक्ट्री रिहायशी इलाके में थी। मृतकों की संख्या के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। स्थानीय लोगों ने बताया कि इस फैक्ट्री में एक साल पहले भी धमाका हुआ था।

ALSO READ: AZAD SOCH PUN JABI EPAPER




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *