Haryana election notification: विधानसभा की चुनाव तारीखों का ऐलान Haryana election notification: विधानसभा की चुनाव तारीखों का ऐलान
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Haryana election notification

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा की चुनाव तारीखों का ऐलान

90

हरियाणा और महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को होंगे चुनाव

मतदान की गिनती होगी 24 अक्टूबर को

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा- हरियाणा में 1.28 करोड़ वोटर, चुनाव में 1.3 लाख EVM का इस्तेमाल होगा

Election Commission के मुताबिक- महाराष्ट्र 8.94 करोड़ वोटर हैं, 1.8 लाख EVM इस्तेमाल होंगी

महाराष्ट्र की 288 सदस्यीय विधानसभा का कार्यकाल 9 नवंबर 2019 को खत्म होगा, राज्य में अभी भाजपा-शिवसेना की गठबंधन सरकार

90 सीटों वाली हरियाणा विधानसभा का कार्यकाल 2 नवंबर 2019 तक, राज्य में भाजपा की सरकार

NEW DELHI : . Haryana election notification: Maharashtra Election Notification : Election Commission ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर हरियाणा और महाराष्ट्र के विधानसभा की चुनाव तारीखों का ऐलान कर दिया गया है । महाराष्ट्र में विधान सभा की 288 सीटें हैं और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में भाजपा-शिवसेना की गठबंधन सरकार है। विधानसभा का कार्यकाल आने वाले 9 नवंबर को खत्म हो रहा है। इसके साथ साथ हरियाणा विधानसभा में 90 विधान सभा सीटें हैं और मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के नेतृत्व में भाजपा की सरकार चल रही है। हरियाणा विधानसभा का कार्यकाल 2 नवंबर 2019 तक है। दोनों राज्यों में पांच साल पहले चुनाव की घोषणा भी 20 सितंबर को ही हुई थी और 15 अक्टूबर 2014 को मतदान हुआ था। नतीजे 19 अक्टूबर 2014 को आए थे।

The schedule for the elections in Haryana and Maharashtra is as follows:

Issue of notification: September 27

Last date for filing nominations: October 4

Scrutiny of nominations: October 5

Withdrawal of nominations: October 7

Date of polling: October 21

Counting of votes: October 24

Elections for the Maharashtra and Haryana assembly will be held on October 21

The date of counting will be October 24

यह चुनाव Article 370 और 3 Talak खत्म करने के फैसले के बाद Modi Govt का पहला टेस्ट होंगे। दोनों राज्यों में इस बार स्थानीय मुद्दों की तुलना में कश्मीर से अनुच्छेद 370 निष्प्रभावी करने का मुद्दा ज्यादा हावी नजर आ रहा है।

Maharashtra election notification 8.94 करोड़ वोटर

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा, ‘‘हरियाणा में one.28 करोड़ वोटर हैं और one.3 लाख ईवीएम का इस्तेमाल होगा। महाराष्ट्र 8.94 करोड़ वोटर हैं और 1.8 लाख ईवीएम का इस्तेमाल होगा।’’
उन्होंने कहा, ‘‘महाराष्ट्र के लिए चुनाव आयोग ने दो विशेष पर्यवेक्षकों को भेजने का फैसला किया है, जो सिर्फ चुनावी खर्च पर नजर रखेंगे। पहले भी महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक में ऐसे पर्यवेक्षकों को चुनाव के दौरान भेजा जा चुका है। आयोग ने राजनीतिक दलों से यह भी अपील की है कि वे पर्यावरण के लिए अनुकूल सामग्री का ही प्रचार में इस्तेमाल करें और प्लास्टिक के इस्तेमाल से बचें।’’

दोनों राज्यों में अनुच्छेद 370 प्रमुख चुनावी मुद्दा

Haryana : Haryana BJP President सुभाष बराला ने पिछले दिनों इसके संकेत दिए थे कि J@K से Article 370 को निष्प्रभावी करने का मुद्दा वह Election में उठाएगी। विधानसभा में भी इस मुद्दे पर चर्चा हुई थी और हंगामा भी हुआ था। Ex CM और कांग्रेस नेता Bhupinder Singh Hudda ने भी अगस्त में Rohtak में हुई रैली में Article 370 निष्प्रभावी करने के फैसले का Spout कर दिया था। उन्हों ने कहा था कि इस मुद्दे पर कांग्रेस रास्ते से भटक गई है।

Maharashtra : Prime Minister Narendra Modi ने हाल ही में अपने Maharashtra दौरे पर दिए भाषण में J@K के संबंध में लिए फैसले का जिक्र किया। पिछले दिनों मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष कृपाशंकर सिंह ने Article 370 के मुद्दे पर पार्टी छोड़ दी।

ALSO READ: Chunni Black Singer Jasmine Sandlas | Ranbir Grewal

विलासराव देशमुख की सरकार में गृह राज्य मंत्री रहे सिंह ने कहा कि वे इस मुद्दे पर कांग्रेस के रुख से आहत हैं। पिछले दिनों राज्य में कुछ बयानबाजी इसी मुद्दे पर हुई है। दरअसल, महाराष्ट्र सरकार ने हाल ही में फैसला किया है कि राज्य पर्यटन विकास विभाग श्रीनगर और लेह में दो रिजॉर्ट बनाएगा। इस पर महाराष्ट्र कांग्रेस ने सवाल किया कि क्या अनुच्छेद 370 निष्प्रभावी करने के मोदी सरकार के फैसले को सही ठहराने के लिए महाराष्ट्र की जनता के पैसे का इस्तेमाल कश्मीर में किया जा रहा है?

दोनों राज्यों में क्या क्या होंगे राजनीतक पार्टिओं के मुद्दे

Maharashtra : विदर्भ में सूखा और Farmer Suicides , Middle Maharashtra में बाढ़, मराठा आरक्षण।

Haryana : Jobs: Haryana की खट्टर सरकार दावा कर रही है कि उसने समाज के सभी वर्गों को रोजगार के मौके दिए हैं।

राकांपा-कांग्रेस में गठबंधन हुआ, भाजपा-शिवसेना में सीटों के बंटवारे पर फैसला बाकी
इस बार राकांपा प्रमुख शरद पवार घोषणा कर चुके हैं कि राकांपा-कांग्रेस 125-125 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। thirty eight सीटों पर अन्य सहयोगी दल चुनाव लड़ेंगे। वहीं, शिवसेना और भाजपा के बीच सीटों को लेकर खींचतान जारी है। गुरुवार को ही शिवसेना की ओर से कहा गया कि अगर उसे one hundred forty four से कम सीटें मिलेंगी तो वह गठबंधन से अलग चुनाव लड़ेंगी।

Haryana election notification: हरियाणा में पहली बार भाजपा को 2014 में पूर्ण बहुमत मिला

Haryana election notification- हरियाणा में 2014 विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने हरियाणा जनहित कांग्रेस से गठबंधन तोड़कर सभी ninety सीटों पर चुनाव लड़ा। पार्टी 47 Seats जीतने में सफल रही। राज्य के इतिहास में यह पहला मौका था, जब भाजपा ने पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाई।

ALSO READ: Film Banaun Nu Firaan Film Nikka Zaildar 3 Singer Ammy Virk , Wamiqa Gabbi

पिछली बार महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना ने twenty five साल बाद अलग-अलग चुनाव लड़ा था, महाराष्ट्र में 2014 के विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा-शिवसेना में गठबंधन टूट गया था। दोनों दलों ने twenty five साल बाद अलग-अलग चुनाव लड़ा। भाजपा को 122 और शिवसेना को sixty three सीटें मिली थीं। वहीं, कांग्रेस-राकांपा के बीच भी सीटों के बंटवारे को लेकर समझौता नहीं हो पाया। इन दोनों दलों ने भी अलग-अलग चुनाव लड़ा।

घोषणा के तुरंत बाद आचार संहिता लागू

Code of Conduct लागू होते ही दोनों राज्यों में बदलाव दिखेंगे। जैसे Transfer और नियुक्तियां रुक जाएँगी । जरूरी अपनी ट्रांसफर करवानी होगी तो वो सिर्फ चुनाव आयोग ही कर पायेगा । सरकारी खर्च पर सरकार की उपलब्धियों का Advertisement जारी नहीं होगा। घोषणा, उद्घाटन, लोकार्पण भी नहीं होंगे। सीएम-मंत्री रूटीन के काम ही करेंगे।

Haryana election notification

ALSO READ : AZAD SOCH PUNJABI NEWSPAPER




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *