अब सुखपाल खैहरा की खैर नहीं , आप उठाने जा रही है बड़ा कदम अब सुखपाल खैहरा की खैर नहीं , आप उठाने जा रही है बड़ा कदम
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Sukhpal Khaira against Case

अब सुखपाल खैहरा की खैर नहीं , आप उठाने जा रही है बड़ा कदम

134

चंडीगढ़ 2 January 2020 : Sukhpal Khaira against case– आम आदमी पार्टी (AAP) से बागी होकर अलग हुए विधायक सुखपाल सिंह खैहरा के खिलाफ अब केजरीवाल और भगवंत मान ने अंदरूनी तौर पर एक्शन लेने की ठान ली है । पार्टी हाईकमान ने पंजाब में झाड़ू को खिलारने र्और उसके विधायकों को बगावत के लिए उकसाने के लिए सुखपाल सिंह खैहरा को बड़ा कसूरवार माना है।

Aam Admi Party ने खैहरा को अब पाठ पढ़ाने (Sukhpal Khaira against case) की तैयारी कर ली है। विपक्ष के नेताHarpal Singh Cheema की तरफ से दल बदल कानून के अंतर्गत खैहरा खिलाफ दायर की गई याचिका पंजाब विधानसभा के स्पीकर के पास लंबित है, जबकि अक्टूबर 2019 में खैहरा इस्तीफा वापस ले चुके हैं। इस तरह पार्टी ने खैहरा के खिलाफ हाई कोर्ट जाने का फैसला लिया है। पार्टी हाईकमान कानूनी जानकारों से सलाह कर रही है। हरपाल चीमा बताते हैं कि पार्टी जल्द ही सुखपाल खैहरा के खिलाफ हाई कोर्ट में जाएगी।

26 जुलाई 2018 को पार्टी ने सुखपाल खैहरा को विरोधी पक्ष के पद से हटाकर चीमा को विधायक दल का नेता बना दिया था। खैहरा ने पार्टी के इस फैसले से खफा होकर बगावत कर दी थी। उन्होंने ६ विधायकों के समर्थन के साथ एक अलग धड़ा बना कर अलग से गतिविधियां शुरू कर दी थीं। 3 नवंबर 2018 को सुखपाल खैहरा और विधायक कंवर संधू को अनुशासनहीनता के आरोप में निलंबित कर दिया था।

लोकसभा चुनाव से पहले 6 जनवरी, 2019 को खैहरा ने पार्टी की प्राथमिक मेंबरशिप से इस्तीफा देने के बाद अपनी अलग से पंजाब एकता पार्टी गठित की थी। पंजाब एकता पार्टी लोकसभा चुनाव में पंजाब डेमोक्रेटिक अलायंस के साथ मिलकर लड़ी थी, लेकिन बठिंडा से खहरा को न सिर्फ हार का मुंह देखना पड़ा, बल्कि उनकी जमानत तक जब्त हो गई थी।

खैहरा को अयोग्य करार देने की मांगSukhpal Khaira against case


खैहरा की नई पार्टी गठित करने के बाद भुलत्थ निवासी हरसिमरन सिंह नामक ने खैहरा खिलाफ दल बदल कानून के अंतर्गत कार्रवाई करने के लिए स्पीकर के पास याचिका दायर की है। इसी तरह आप विधायक दल के नेता Harpal Singh Cheema ने भी खैहरा को अयोग्य करार देने के लिए स्पीकर को अर्जी दी हुई है। दाखा से पूर्व विधायक एचएस फूलका ने भी विधायक पद से इस्तीफ़ा दिया था, लेकिन स्पीकर ने विधानसभा की मर्यादा व नियमों के अनुसार इस्तीफा न देने के कारण इसे मंजूर नहीं किया। कई महीनों बाद फूलका ने अदालत में जाने की बात कही, तो स्पीकर ने उनका इस्तीफा मंज़ूर कर लिया था

दल बदलने वालों के खिलाफ हो कार्रवाई – हरपाल सिंह चीमा

Leader of Opposition के नेता हरपाल सिंह चीमा (Harpal Singh Cheema) का कहना है कि आपके जिन विधायकों ने विधायक पद से इस्तीफा दिया और दल बदल लिया है, उनके खिलाफ स्पीकर को संविधान के अनुसार फैसला लेना चाहिए।

ALSO READ: Reela Wala Deck R Nait New Punjabi Song 2019

ALSO READ: GLOCK Singer MANKIRT AULAKH New Punjabi Song 2019

ALSO READ: Viral: जैकलीन के साथ सलमान खान ने किया मुन्नी बदनाम पर डांस

ALSO READ: Azad Soch Punjabi Epaper




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *