Trachea- लेटकर दूध पिलाने से क्यों मरते हैं बच्चे, जानिए असल कहानी Trachea- लेटकर दूध पिलाने से क्यों मरते हैं बच्चे, जानिए असल कहानी
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Trachea

लेटकर दूध पिलाने से क्यों मरते हैं बच्चे , जानिए असल कहानी

225

पटियाला 3 January 2020: TracheaChild Diseases Treatment – बच्चे जब छोटे होते हैं तो उनका ज्यादा ख्याल रखना पड़ता है . थोड़ी सी लापरवाही से ही आपके बचे की जिंदगी से खिलवाड़ हो सकता है .

पंजाब में पटियाला के हीरा बाग नगर में थोड़ी सी लापरवाही के कारण संजय कुमार के 2 माह के बच्चे की गुरुवार को मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक संजय की पत्नी ने बुधवार रात 2 महीने के बेटे को दूध पिलाया और उसके साथ ही सो गई। सुबह उठने पर बच्चा बेसुध था। बच्चे में जब कोई हरकत नहीं हुई तो उसे तुरंत अस्पताल ले जाया, जहां डॉक्टरों ने चेकअप के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

Trachea -लिटाकर दूध पिलाने से करें परहेज

Child Specialist डॉ. अशीष शर्मा की मानें तो कई बार दूध बच्चे की भोजन की नली के बजाय सांस की नली में चला जाता है, जिसे मेडिकल भाषा में ट्रैकिया (Trachea) कहते हैं। सांस की नली से दूध फेफड़ों में चला जाता है, जिससे बच्चे की सांस रुक जाती है। बच्चे काे लिटाकर दूध पिलाने से परहेज करना चाहिए।

ALSO READ: Reela Wala Deck R Nait New Punjabi Song 2019

ALSO READ: GLOCK Singer MANKIRT AULAKH New Punjabi Song 2019

ALSO READ: Viral: जैकलीन के साथ सलमान खान ने किया मुन्नी बदनाम पर डांस

ALSO READ: Azad Soch Punjabi Epaper




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *