Corona leak P4 Lab - China ने खुद बांटी अपने देश में Corona से मौत Corona leak P4 Lab - China ने खुद बांटी अपने देश में Corona से मौत
BREAKING NEWS
Search

Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Corona

China ने खुद बांटी अपने देश में Corona से मौत

438

चीन से गलती में लीक हुआ कोरोना वायरस

New Delhi 4 February 2020: – Corona leak P4 Lab– चीन में Corona Virus ने लोगों में काफी दहशत फैला रखी है । यह वायरस अपने आप पैदा नहीं हुआ बल्कि 20,438 लोगों को अपनी चपेट में लेने वाला यह कोरोना वायरस चीन की खुद की ही गलतिओं का नतीजा है ।

P4 Lab से Leak हुआ Corona Virus

Corona Virus को लेकर पूरी दुनिआ में इसको जानने के लिए काफी सर्च की जा रही है। लेकिन Corona को लेकर चीन की एक Website ने जनवरी में ही इन सवालों का जवाब देकर एक बड़ा खुलासा कर दिया था। चीन की जी न्‍यूज ने 25 जनवरी को एक बड़ा खुलासा किया था। इसके मुताबिक यह Corona Virus किसी Market से नहीं बल्कि P4 Lab से आया था। ये P4 Lab China के Hubai State के Wuhan City में स्थित है। ये वही Wuhan City है जहां पर इस Corona Virus का सबसे अधिक प्रकोप दिखाई दे रहा है।

Daiyin Gye ने बनाया Corona Virus

इस वेबसाइट के मुताबिक इस वायरस अटैक के पीछे चीन के एक वैज्ञानिक का हाथ है जिसका नाम डेयिन ग्‍याे है। ये वही शख्‍स है जिसने कोरोना वायरस को बनाया है। इस खबर के मुताबिक चीन के उप राष्‍ट्रपति वांग किशान ने इस वायरस अटैक का आदेश दिया था। इस खबर के सामने आने के बाद चीन की सरकार और कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी ऑफ चाइना इसके लिए अमेरिका पर आरोप मढ़ रही है। चीन की कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी का आरोप है कि कोरोना वायरस को अमेरिका ने तैयार किया है।

सीफूड मार्केट से 20 मील की दूरी पर है लैब

हालांकि वेब साइट पर प्रकाशित खबर के मुताबिक चीन की कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी ने यह माना है कि ये वायरस किसी मार्केट से नहीं आया था। इतना ही नहीं इसके मुताबिक चीन ने ये भी माना है कि यह बायोलॉजिकल वैपंस प्रोग्राम का हिस्‍सा था। जहां तक इस वायरस के पीछे पी4 लैब का जिक्र है तो इसको लेकर दुनिया भर के बायोलॉजिकल वैपंस एक्‍सपर्ट ने इस तरह का अंदेशा जताया था। यह लैब वुहान की सी-फूड मार्केट से करीब 20 मील की दूरी पर स्थित है।

गलती से हुआ लीक

इस वेबसाइट ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि चीन की कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी ने इतना तक मान लिया है कि यह वायरस गलती से लीक हो गया था। लिहाजा इसको पार्टी ने मानवीय भूल बताने की कोशिश की है। हालांकि इसको लेकर आज तक भी कोई आधिकारिक बयान सरकार या पार्टी की तरफ से नहीं दिया गया है। चीन की कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी इसको मानवीय या तकनीकी खराबी कहकर पीछा छुड़ाने की कोशिश कर रही है। वहीं इस खबर के मुताबिक इस पार्टी ने ही वायरस के जानवरों से इंसान में पहुंचने की अफवाह को फैलाने का भी काम किया है।

दस वर्ष में बनी लैब

वुहान की जिस लैब का जिक्र यहां पर किया गया है उसको बनने में 10 वर्ष का समय लगा था। इसका मकसद सार्स जैसी बीमारियों पर काबू पाने के लिए इलाज खोजना था। पी4 केवल अकेली लैब नहीं है बल्कि दुनियाभर में इस तरह की दूसरी लैब भी हैं जिन्‍हें विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की रेंफरेंस लैब के नाम से जाना जाता है। इसी तरह की एक लैब जापान में भी है जो पी4 के नाम से ही जानी जाती है।

Wuhan का सीक्रेट दौरा

News Website ने इस Corona Virus Attack को लेकर कई तरह के सवाल भी खड़े किए हैं। इसके साथ ही कुछ नए खुलासे भी किए हैं। News Website के मुताबिक जिस वक्‍त इस Virus का पहला मामला Wuhan में सामने आया था उससे कुछ समय पहले ही China के Vise President ने Wuhan का Secret दौरा किया था।

इतना ही नहीं Kisangani ने अपने करीबी को यहां तक बताया कि इस Corona Virus का प्रकोप February अंत तक खत्‍म भी हो जाएगा। इतना ही नहीं China ने इस Corona Virus के बढ़ते प्रकोप के बावजूद किसी भी तरह की बाहरी मदद, मॉनिटरिंग की अपील को भी सिरे से खारिज कर दिया था।

ALSO READPunjabi Song LEHNGA Singer Nimrat Khaira

ALSO READ: AZAD SOCH PUNJABI NEWSPAPER




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *