नेपाल ने विवादित नक्शे को किया पास,कालापानी लिपुलेख,और लिम्पियाधुरा किये नेपाल ने विवादित नक्शे को किया पास,कालापानी लिपुलेख,और लिम्पियाधुरा किये

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
नेपाल ने विवादित नक्शे को किया पास,कालापानी लिपुलेख,और लिम्पियाधुरा किये शामिल

नेपाल ने विवादित नक्शे को किया पास,कालापानी लिपुलेख,और लिम्पियाधुरा किये शामिल

414

AZAD SOCH :-

काठमांडू :- नेपाल ने आज अपनी संसद में विवादित नक्शे में संशोधन का प्रस्ताव पास हो गया है,जिस में उस ने भारत के 3 हिस्सों को अपना बताने से है,जिस में कालेपानी, लिपुलेख और लिंपियाधुरा में उनकी हिस्सेदारी है।

ये तीन क्षेत्र उत्तराखंड में हैं और भारत का हिस्सा हैं,नक्शे में बदलाव से जुड़ा बिल शनिवार को के पास कर दिया,यह बिल संविधान में बदलाव करने के लिए लाया गया था,कानून मंत्री डा.शिवमाया तुम्बाड ने प्रतिनिधि सभा ( संसद के निचले सदन) में पेश किया था।

इसके स्पोर्ट में 258 वोट पड़े,नेपाल की संसद में इस समय 275 सदस्यों वाली नेपाली संसद हैं,इस के इलावा विरोध में एक भी वोट नहीं पड़ा,भारत और नेपाल में सीमा विवाद के कारण रिश्ते तनावपूर्ण चल रहे हैं।

नेपाल पुलिस ने की भारतियों के पर गोलीबारी एक की मौत दो ज़ख़्मी,गृह मंत्रालय गंभीर


8 मई को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह एक सड़क का उद्घाटन किया था जिस में नेपाल इस बात पर ऐतराज़ किया था,इस के बाद नेपाल की सरकार ने भारत के कुछ इलाकों को अपना बताने से है,इस के बाद एक नकसें भी जारी की है ।

जिस में उस ने भारत के कई इलाकों को अपना बताया है,लिपुलेख, लिम्पियाधुरा और कालापानी को अपना हिस्सा बताया,यह जो नकसें के पास किया था वह नेपाल कैबिनेट की बैठक में भूमि संसाधन मंत्रालय ने नेपाल का यह संशोधित नक्शा जारी किया था।

बैठक में मौजूद कैबिनेट सदस्यों ने समर्थन किया था,नेपाल के प्रधान मंत्री कहा कि यह जो इलाके हैं,वह नेपाल के हैं जिस पर भारत ने कब्जें किया हुए है,जिस के बाद नेपाल की सरकार ने एक कैबिनेट गठन किया जिस में 9 लोगों की समिति बनाई है,इस के बाद नेपाल और भारत में विवाद पड़ता हो गया है, जो अब तक जारी है।

इस के बाद इस नक्के में विरोध भी नेपाल की पार्टी जिस का नाम जनता समाजवादी पार्टी की सांसद सरिता गिरी विरोध दर्ज करा चुकी हैं,उन्होंने संशोधन बिल को वापस लेने और पुराने नक्शे को बहाल करने की मांग की थी।

जिस को ले कर अब विवाद भी चल रहा है,यह पार्टी अब बार बार यह कह रही कि इस नक्से को वापस कर लेना चाहिए।नेपाल और भारत का यह विवाध अधिक रहा है, जिस कारण दोनों देशों में तनाव भी बढ़ गया है।

यह भी पढ़ो:-

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान Shahid Afridi को हुआ कोरोना,Twitter पर दी जानकारी

पेट्रोल और डीज़ल की कीमतों में लगातार वृद्धि की गई

ਅਮਰੀਕਾ ਦੀ ਫੌਜ਼ ਵਿੱਚ ਸ਼ਾਮਲ ਹੋਈ ਅਨਮੋਲ ਕੌਰ ਨਾਰੰਗ,ਵੈਸਟ ਪੁਆਇੰਟ ਆਰਮੀ ਅਕੈਡਮੀ USA ਤੋਂ ਗ੍ਰੈਜੂਏਸ਼ਨ ਕੀਤੀ

ਕੋਰੋਨਾ ਵਾਇਰਸ ਨੂੰ ਰੋਕਣ ਲਈ Weekend ਅਤੇ ਜਨਤਕ ਛੁੱਟੀਆਂ ਤੇ ਸਖਤੀ ਨਾਲ ਲਾਗੂ ਕੀਤਾ ਲੌਕਡਾਊਨ, CM ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਆਦੇਸ਼

AZAD SOCH :- E-PAPE

AZAD SOCH :- TV

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ facebook page like ਅਤੇ twitter follow ਕਰੋਂ :-




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *