भारतीय फ़ौज ने बॉर्डर मोर्चे संभाले,वायुसेना के सभी बेस फूल अलर्ट पर भारतीय फ़ौज ने बॉर्डर मोर्चे संभाले,वायुसेना के सभी बेस फूल अलर्ट पर

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
भारतीय फ़ौज ने बॉर्डर मोर्चे संभाले,वायुसेना के सभी बेस फूल अलर्ट पर

भारतीय फ़ौज ने बॉर्डर मोर्चे संभाले,वायुसेना के सभी बेस फूल अलर्ट पर

175

AZAD SOCH :-

NEW DELHI :- भारत के चीन के बीच बॉर्डर (border) विवाद लगातार जारी है,और बॉर्डर के पर तनाव भी लागतार अधिक रहा है, इस के साथ भारत के तीनों ही सेनाएं ने अपनी चौकसी ओर ज़्यादा तेज़ कर दी है, जिससे कि चीन की हर हरकत के पर भारतीय सैनिकों की पूरी नज़र है, भारतीय की सभी बॉर्डर के पर चौकसी बढ़ा दी गई है।

इस के साथ भारत ने अपने फ्रंट मोर्चों और हवाई सेना के टिकानों और तायनाती मज़बूत की है। इस के नाल कई इलाकों कौमबैट एयर पैट्रोलिंग (ङंश) भी लगातार जारी है।

भारत और चीन के बीच हुए झड़प दुरान यह मसला हो भी बढ़ गया है, इस तरह अब भारत और चीनी सैनिकों बीच हुई झड़प के बाद चीन के साथ लगती करीब 3500 किलोमीटर की बॉर्डर पर स्थित मोर्चों और हाई अलर्ट जारी किया गया है।

उधर, नेवी को भी हिंद महासागर क्षेत्र अपनी चौकसी बढ़ाने के लिए कहा गया है,यहाँ चीनी नेवी की तरफ से लगातार गतिविधियों होती हैं,अब तक भारत ने अरुणाचल परदेस, उत्तराखंड, हिमाचल परदेस और लद्दाख़ में असली कंट्रोल रेखा (ऐलएसी) के नज़दीक अग्रिम मोर्चों और तैनात सभी टिकानों और टुकड़ियों के लिए सेना पहले से ही जवानों को भेज चुकी है।

भारत-चीन सीमा विवाद:-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे सर्वदलीय बैठक सोनिया गांधी,शरद पवार भी होंगे शामिल

जिससे चीन की हर हरकत के पर नज़र रखी जा सके,देश देे जवान सैनिक पूरी तरह तैयार हैं,भारतीय की 3सेनाएं को हाई अलर्ट के पर रखने से गया है।


इस हफ़्ते सोमवार हुई भारत के चीन में के बीच झड़प दौरान भारत के 20 सैनिक शहीद हो चुके हैं, और कई सैनिक इस समय ज़ख्मी भी हैं, जो कि बहुत जल्दी ठीक हो कर बॉर्डर के पर तैनात हो जाएंगे।

इस के साथ ही भारत और चीन सरहद के पर अब हालात को देखते हुए ऐलएसी के साथ लगती एयर स्पेस में जल सेना के टोही जहाज़, पी8आई को तैनात किया गया है,समुद्री में कई सौ मीटर नीचे पनडुब्बी को हंटिंगो करन वाले इस अमरीकी हवाई जहाज़ को चीनी सेना की तायनाती और मूवमैंट का पता लाने के लिए लगाया गया है।


इस टोही जहाज़ में आसमान से 25-30 हज़ार फुट नीचे ज़मीन चल रही सभी गतिविधियों की तस्वीरों कमांड और कंट्रोल सैंटर को असल में में मुहैया करा देते हैं,इस के साथ हज़ारों मील दूर बैठे मिलटरी कमांडरों को दुशमण की हर हरकत बारे जानकारी रहती है ।

वायुसेना के सभी बेस फूल अलर्ट पर हैं और लड़ाकू जहाज टेक ऑफ कर रहे हैं,धवार रात वायुसेना प्रमुख राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने लेह और श्रीनगर एयर बेस का दौरा किया,उन्होंने लद्दाख और कश्मीर में तैयारियों का जायजा लिया।

यह भी पढ़ो : –

CM PUNJAB ਭਾਵੁਕ ਹੋਏ, ਕਿਹਾ ਕਿ ਸਾਡੇ ਜਵਾਨ ਗੋਲੀ ਕਿਉਂ ਨਹੀਂ ਚਲਾ ਸਕੇ , ਕੌਣ ਹੈ ਜਿੰਮੇਦਾਰ,ਚੀਨੀਆਂ ਤੇ ਵਿਸ਼ਵਾਸ ਨਹੀਂ ਕੀਤਾ ਜਾ ਸਕਦਾ

ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਜਿਲ੍ਹਾਂ ਮਾਨਸਾ ਦੇ ਗੁਰਤੇਜ਼ ਸਿੰਘ ਲਦਾਖ਼ ਵਿੱਚ ਚੀਨ ਦੇ ਸੈਨਿਕਾਂ ਨਾਲ ਝੜਪ ਦੁਰਾਨ ਸ਼ਹੀਦ ਹੋਏ,

CM ਕੈਪਟਨ ਅਮਰਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਸ਼ਹੀਦ ਹੋਏ ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਜਵਾਨਾਂ ਦਾ ਦਿਲੀ ਕੀਤਾ ਦੁੱਖ ਪ੍ਰਗਟਾਵਾਂ

ਹਜ਼ਾਰਾਂ ਨਮ ਅੱਖਾਂ ਨਾਲ ਸ਼ਹੀਦਾਂ ਨੂੰ ਦਿੱਤੀ ਆਖਰੀ ਵਿਦਾਈ,ਭਾਰਤੀ ਫੋਜ਼ ਨੇ ਦਿੱਤੀ ਸਲਾਮੀ,ਲੱਗੇ ਅਮਰ ਰਹੇ ਦੇ ਨਾਅਰੇ

AZAD SOCH :- E-PAPER

AZAD SOCH :- TV

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ facebook page like ਅਤੇ twitter follow ਕਰੋਂ :-




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *