बॉर्डर पर जंग की दहशत,फौजियों ने संभाले मोर्चे,चीन भारत के दो अफसरों और 10 बॉर्डर पर जंग की दहशत,फौजियों ने संभाले मोर्चे,चीन भारत के दो अफसरों और 10
BREAKING NEWS
Search

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
बॉर्डर पर जंग की दहशत,फौजियों ने संभाले मोर्चे,चीन भारत के दो अफसरों और 10 जवान रिहा कर दिया है

बॉर्डर पर जंग की दहशत,फौजियों ने संभाले मोर्चे,चीन भारत के दो अफसरों और 10 जवान रिहा कर दिया है

166

AZAD SOCH :-

NEW DELHI :- चीन की पीपलज़ लिबरेशन आर्मी (पीऐल्लए) के साथ हुए घातक टकराव बाद ‘लाता हुए दो अफसरों समेत दस फौजियों को गुरूवार देर शाम दोनों मुल्कों के मेजर जनरल स्तर की बैठक के बाद चीन ने रिहा कर दिया है।

सूतरां ने बताया कि हमारे वह दस जवान वापस आ गए, जो लापता हो गए थे या चीन ने हिरासत में ले लिए थे या गलवान नशेबाज़ में दुश्मन के इलाको में थे,लद्दाख़ की गलवान नशेबाज़ में सोमवार की रात को हुए भयानक टकराव में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे और करीब 76 फ़ौजी ज़ख्मी हुए हैं।

ज़ख़्मियों में 18 की हालत गंभीर है जबकि 58 को मामूली चोटों लगीं हैं,चीनी फौजियों के मारे जाने की रिपोर्टों हैं परन्तु इन की संख्या नहीं बतायी गई,दुश्मन के साथ झड़प के बाद भारतीय फ़ौज ने अपने जवानों की संख्या की थी और कुछ लापता थे।

अभी तक फ़ौज या सरकार की तरफ से फौजियों की रिहाई बारे कोई अधिकारत बयान जारी नहीं किया गया,सूत्रों ने बताया कि लेह के एक हस्पताल में 18 जवान हौसले इलाज हैं, जबकि 58 को अस्पतालों में दाख़िल करवाया गया है।

ਹਜ਼ਾਰਾਂ ਨਮ ਅੱਖਾਂ ਨਾਲ ਸ਼ਹੀਦਾਂ ਨੂੰ ਦਿੱਤੀ ਆਖਰੀ ਵਿਦਾਈ,ਭਾਰਤੀ ਫੋਜ਼ ਨੇ ਦਿੱਤੀ ਸਲਾਮੀ,ਲੱਗੇ ਅਮਰ ਰਹੇ ਦੇ ਨਾਅਰੇ

चीन की इस बुज़दिली भरे काम की पूरे भारत के लोगों अंदर भारी रोश है। चीन ने भारतीय सैनिकों ने धोखो के साथ अटैक किया था, और साथ ही भारतीय सैनिकों ने बराबर की कार्यवाही की,जिस कार्यवाही में भारत के 20 जवान सैनिक शहीद हो गए इस के साथ ही देश के अंदर गुस्से लहर है ।

सरहद पर जंग की दहशत,गाँव खाली कराए, फौजियों ने संभाले मोर्चे :-

चीनी फ़ौज के रवई्ईए कारण लगातार तीसरे दिन भी बातचीत का कोई हल नहीं निकला हालाँकि बैठक के नतीजों को ले कर दोनों पक्षों की तरफ से कोई अधिकारत बयान नहीं दिया गया, भारतचीन में फ़ौज बीच कमांडर स्तर की बैठक गुरूवार गवान घाटी के पुआइंट-14 के करीब हुई थी।

गलवान घाटी में भारत और चीन बीच हुई हिंसक झड़प के बाद भारतीय फ़ौज ने सभी मोर्चों पर तायनाती बडा दी है,कई सरहदी गाँव वी खाली करवाए जा रहे हैं,मौजूदा हालात स्थिर करन के लिए कमांडर स्तर पर हुई बातचीत में फ़ौज ने फिर स्पष्ट कर दिया है ।

कि गलवान घाटी में पहले की तरह स्थिति बहाल करन के इलावा चीन के पास कोई दूसरा विकल्प नहीं,इस से पहले सोमवार हुई झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे,सूत्रों का कहना है कि चीन बेशक मुँह नहीं खोल रहा परन्तु उस के भी इस झड़प दौरान 45 जवान मारे गए हैं।

गलवान घाटी की घटना के बाद भारतीय फ़ौज ने चौकसी बडा दी है,इस जगह से 2ੑ3 किमी दूर फ़ौज के दर्जनों ट्रक अपने बनाओ सामान के साथ ठहरे हैं,उधर चीन ने भी गलवान घाटी से एक किमी दूर ऐलएसी के पार अपने इलाको में फ़ौजी वाहनों और फ़ौज को तैनात किया हुआ है।

फ़िलहाल यह विवाद थंमदा नज़र नहीं आ रहा क्योंकि चीन अजय भी गलवान घाटी में संघर्ष के इलाके से पीछे हटने के लिए तैयार नहीं है,हालाँकि दोनों देशों की तरफ से तनाव दूर करन की कोशिशों की जा रही हैं।

इस के साथ ही हवाई सैनिकों को हाई अलर्ट के रखने गया है, इस के साथ भारतीय नौसैनों तैयार है, सरहद के पर पूरी चौकसी इस्तेमाल रही है,भारत के सैनिक चीन की हर हरकत के पर नज़र रख रहे हैं,जिससे जवाबी कार्यवाही की जा सके।

यह भी पढ़ो : –

CM PUNJAB ਭਾਵੁਕ ਹੋਏ, ਕਿਹਾ ਕਿ ਸਾਡੇ ਜਵਾਨ ਗੋਲੀ ਕਿਉਂ ਨਹੀਂ ਚਲਾ ਸਕੇ , ਕੌਣ ਹੈ ਜਿੰਮੇਦਾਰ,ਚੀਨੀਆਂ ਤੇ ਵਿਸ਼ਵਾਸ ਨਹੀਂ ਕੀਤਾ ਜਾ ਸਕਦਾ

भारतीय फ़ौज ने बॉर्डर मोर्चे संभाले,वायुसेना के सभी बेस फूल अलर्ट पर

CM ਕੈਪਟਨ ਅਮਰਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਸ਼ਹੀਦ ਹੋਏ ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਜਵਾਨਾਂ ਦਾ ਦਿਲੀ ਕੀਤਾ ਦੁੱਖ ਪ੍ਰਗਟਾਵਾਂ

AZAD SOCH :- E-PAPER

AZAD SOCH :- TV

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ facebook page like ਅਤੇ twitter follow ਕਰੋਂ :-




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *