आर.डी.एस.ओ. द्वारा दूसरी वर्चुअल वैंडर मीट-2020 का आयोजन - AZAD SOCH आर.डी.एस.ओ. द्वारा दूसरी वर्चुअल वैंडर मीट-2020 का आयोजन - AZAD SOCH
BREAKING NEWS
Search

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
आर.डी.एस.ओ.आर.डी.एस.ओ. द्वारा दूसरी वर्चुअल वैंडर मीट-2020 का आयोजन

आर.डी.एस.ओ. द्वारा दूसरी वर्चुअल वैंडर मीट-2020 का आयोजन

51

AZAD SOCH :-

रेल सेक्‍टर में उच्‍चतर व्‍यापार अवसरों और वैंडर बेस का विस्‍तार करने के लिए

NEW DELHI :- 14.08.2020 – भारतीय रेलवे सप्‍लाई चेन में उद्योगों की भागीदारी को प्रोत्‍साहनआत्मनिर्भर भारत और मेक-इन-इंडिया प्रयासों के अंतर्गत घरेलू विनिर्माताओं को प्राथमिकता इस मीट में 140 से अधिक औद्योगिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया ।

भारतीय रेलवे के रिसर्च विंग आर.डी.एस.ओ. ने देश के उत्‍तरी भागों में स्थित उद्योगों के हितार्थ 13 अगस्‍त, 2020 को एक वर्चुअल वैंडर मीट का आयोजन किया,इस मीट को उद्योग जगत और इसमें शामिल हुए 140 से अधिक प्रतिनिधियों की ओर से शानदार प्रतिक्रिया मिली ।

वैब प्‍लेटफॉर्म की बाध्‍यता के चलते अनेक अन्‍य लोगों को भी ऐसी ही आगामी बैठकों में भाग लेने का सुझाव दिया गया,कोरोना से पहले ऐसी वैंडर मीट का आयोजन आर.डी.एस.ओ. अधिकारियों और वैंडरों की वास्तविक मौजूदगी में किया जाता था ।

किंतु अब कोरोना महामारी के चलते इन बैठकों को आयोजन वर्चुअल प्लेटफॉर्म के साथ किया जा रहा है,आर.डी.एस.ओ. के महानिदेशक, श्री वीरेन्‍द्र कुमार और विशेष महानिदेशक (वैंडर डेवलैपमेंट) श्री ए.के. पांडे की ओर से किए गए प्रयासों के अंतर्गत, देश के सभी उद्योगों को क्षेत्रवार शामिल करने के लिए वैंडर मीट का कार्यक्रम बनाया गया है।

अखिल भारतीय स्‍तर पर इन बैठकों का समन्‍वय श्री गोपाल कुमार, पीईडी, क्‍वालिटी एशोरेंस (मैकेनिकल) और श्री शमिन्‍दर सिंह पीईडी, क्‍वालिटी एशोरेंस (सिगनल एवं दूर-संचार) द्वारा किया जा रहा है,अपनी तरह की इस दूसरी वर्चुअल वैंडर मीट को सम्‍बोधित करते हुए ।

1 अप्रैल से 31 जुलाई 2020 तक माल आय में लगभग 45% की वृद्धि दर्ज की गयी

श्री गोपाल कुमार, पीईडी, क्‍वालिटी एशोरेंस (मैकेनिकल) ने अपने उदधाटन भाषण में कहा कि अनुमोदन प्रक्रिया को सरल करने और अनुसंधान को बेहतर बनाने के लिए आर.डी.एस.ओ. ने अनेक महत्‍वपूर्ण प्रयास किए हैं।

आर.डी.एस.ओ. के कार्यकारी निदेशकों श्री लोकेश सिंह तथा श्री पराग कुमार गोयल ने आर.डी.एस.ओ. की ऑनलाइन वैंडर अनुमोदन प्रक्रिया और सुगम व्यापार हेतु किए गए उपायों पर विस्तृत प्रेजेंटेशन दिया,5 से कम स्रोतों वाली मदों का विवरण भी दिया गया ।

प्रतिनिधियों को यह भी बताया गया कि 5 स्रोतों से कम वाली आर.डी.एस.ओ. नियंत्रित मदों के लिए वैंडरों को स्‍वयं ही पंजीकृत करने में प्रोत्‍साहन देने के लिए पहले ही अनेक उपाय किए गए हैं,5 स्रोतों से कम वाली मदों के लिए ।

पंजीकरण प्रभार मध्‍यम/लघु उद्योगों के लिये 1,50,000/- लाख रूपये से घटाकर 10,000/- रूपये और अन्‍यों के लिए 2,50,000/- लाख रूपये से घटाकर 50,000/- रूपये कर दिया है ।

पंजीकरण प्रक्रिया से लेकर आवेदन को मंजूरी प्रदान करने की सभी प्रक्रियाएं ऑनलाइन हैं,आत्‍म निर्भर भारत और मेक-इन-इंडिया प्रयासों के अंतर्गत घरेलू विनिर्माताओं को प्राथमिकता दी जायेगी, सामग्री की पूरी खरीद डिजीटल प्‍लेटफॉर्म से की जाती है।

विवरणों, ड्राइंग, तकनीकी दस्‍तावेजों की सूची इत्‍यादि सभी दस्‍तावेज आर.डी.एस.ओ. की वैबसाइट पर उपलब्‍ध हैं और नि:शुल्‍क डाउनलोड किए जा सकते हैं,पंजीकरण, परीक्षण, परामर्श प्रभार इत्‍यादि के लिए भुगतान केवल ऑनलाइन है,इसके अलावा प्रोटो टाइप परीक्षण प्रभारों को सभी वैंडरों के लिए 50% अथवा अधिक तक कम किया गया ।

पायलट ने कल की CM गहलोत के साथ मुलाकात,आज विधानसभा में रखा विश्वास मत प्रस्ताव

प्रमुख उद्योग प्रतिनिधियों ने इस बैठक में भाग लिया और आर.डी.एस.ओं. के इस प्रयास की सराहना की,आर.डी.एस.ओ. अधिकारियों ने उद्योगों के प्रतिनिधियों द्वारा उठाए गए प्रश्‍नों के जबाब दिए,कुल मिलाकर बैठक बहुत सफल रही ।

बैठक में दिल्ली के उद्योगपतियों ने बडे उत्‍साह के साथ भाग लिया,भारतीय रेलवे के वेंडर बेस का विस्तार करने के उददेश्य के लिए आयोजित की जाने वाली इन बैठकों को आगे भी जारी रखा जायेगा ।

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ facebook page like ਅਤੇ twitter follow ਕਰੋਂ




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *