उत्‍तर रेलवे रिफंड कार्यालय को गुणवत्ता प्रबंधन सेवाओं के लिए आईएसओ 9001-2015 उत्‍तर रेलवे रिफंड कार्यालय को गुणवत्ता प्रबंधन सेवाओं के लिए आईएसओ 9001-2015

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
उत्‍तर रेलवे रिफंड कार्यालय को गुणवत्ता प्रबंधन सेवाओं के लिए आईएसओ 9001-2015 प्रमाणन के साथ सम्मानित किया गया

उत्‍तर रेलवे रिफंड कार्यालय को गुणवत्ता प्रबंधन सेवाओं के लिए आईएसओ 9001-2015 प्रमाणन के साथ सम्मानित किया गया

48

AZAD SOCH :-


NEW DELHI :- (02.09.2020) :- उत्‍तर एवं उत्‍तर-मध्‍य रेलवे के महाप्रबंधक श्री राजीव चौधरी ने आज बताया कि उत्‍तर रेलवे के लिए बहुत गर्व की बात है कि इसके दावा कार्यालय को गुणवत्ता प्रबंधन सेवाओं के लिए आईएसओ 9001-2015 प्रमाणन का प्रतिष्ठित प्रमाणपत्र दिया गया है यह भारतीय रेलवे के वाणिज्यिक संगठन का ऐसा पहला कार्यालय है.

जिसे ग्राहक केंद्रित दृष्टिकोण के लिए यह प्रतिष्ठित प्रमाणपत्र दिया गया है,
उत्तर रेलवे के दावा कार्यालय ने रिफंड मामलों के शीघ्र निपटारे के अपने मिशन को प्राप्त करने के लिए प्रक्रिया और प्रणाली में सुधार की शुरूआत की है.


महामारी के दौरान, जब पूरी तरह से लॉकडाउन था, तब रेलवे को रेल सेवाओं को रद्द करने के कारण टिकट वापसी की अभूतपूर्व चुनौती का सामना करना पड़ा,इस समय के दौरान, सिस्टम सुधार बहुत लंबा हो गया था,उत्तर रेलवे ने महामारी के दौरान भी धनवापसी के मामलों का निपटारा किया,जबकि कर्मचारी घर से काम कर रहे थे.

यह भी पढ़े: – उत्तर रेलवे मिशन मोड में दिल्ली मंडल द्वारा अगस्त माह में कुल 1.88 मीट्रिक टन मालभाड़ा का लदान किया गया

उत्तर रेलवे का रिफंड कार्यालय, रेल मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों और नीतियों के अनुसार किराए (ई-टिकट और पीआरएस टिकट) का रिफंड देने का कार्य करता है,यह कार्यालय रेल मंत्रालय द्वारा जारी किए गए नागरिक चार्टर, जो यात्रियों की संतुष्टि के लिए प्रतिबद्धता की घोषणा के रूप में है,के प्रति प्रतिबद्ध है.

आईटी सक्षम प्रक्रियाओं को अपनाने से कार्य में बड़ा परिवर्तन आया है,अब मैनुअल प्रक्रियाओं को कम्प्यूटरीकृत पेपरलेस वर्किंग में बदला गया है रिफंड कार्यालय की प्रक्रियाओं को अधिक बेहतर बनाने के लिए मानकीकृत किया गया है.

(दीपक कुमार)
 मुख्‍य जनसम्‍पर्क अधिकारी
Deepak Kumar
Chief Public Relation Officer
Northern Railway

जिसके परिणामस्वरूप अंततः ग्राहकों की संतुष्टि में वृद्धि हुई है,रिफंड कार्यालय में औसत निपटान समय 15-20 दिनों से घटाकर 3-4 दिन कर दिया गया है। यात्री शिकायतों को अब 2-3 घंटे की न्‍यूनतम अवधि के भीतर निपटाया जा रहा है.

यह भी पढ़े:-

राजनाथ सिंह के बेटे विधायक पंकज सिंह की रिपोर्ट आई कोरोना संक्रमित

कोरोना के खिलाफ जंग शकूरबस्‍ती स्थित कोविड केयर सेंटर में अब तक कुल 423 मरीज भर्ती किए गए

उत्तर रेलवे मिशन मोड में दिल्ली मंडल द्वारा अगस्त माह में कुल 1.88 मीट्रिक टन मालभाड़ा का लदान किया गया

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ facebook page like ਅਤੇ twitter follow ਕਰੋਂ




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *