रामविलास पासवान गुरुवार को 74 साल की उम्र में निधन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रामविलास पासवान गुरुवार को 74 साल की उम्र में निधन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
रामविलास पासवान गुरुवार को 74 साल की उम्र में निधन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी ने शोक जताया

रामविलास पासवान गुरुवार को 74 साल की उम्र में निधन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी ने शोक जताया

85

AZAD SOCH :-

NEW DELHI :- रामविलास पासवान कई सप्ताह से दिल्ली के फोर्टिस एस्कॉर्ट हार्ट इंस्टीट्यूट अस्पताल में भर्ती थे और हाल ही में उनकी हार्ट सर्जरी हुई थीकेंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के संस्थापक रामविलास पासवान  (Ram Vilas Paswan) का गुरुवार को 74 साल की उम्र में निधन हो गया रामविलास पासवान का लंबी बीमारी के बाद बीती शाम निधन हो गया.

गुरुवार की शाम को उनके बेटे और लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने निधन की जानकारी दी,प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति से लेकर कई दिग्गजों ने केंद्रीय मंत्री के निधन पर दुख व्यक्त किया,आज रामविलास पासवान के पार्थिव शरीर को पटना ले जाया जाएगा,रामविलास पासवान के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी समेत देशभर के कई नेताओं ने शोक जताया.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) ने लिखा, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन से देश ने एक दूरदर्शी नेता खो दिया है,उनकी गणना सर्वाधिक सक्रिय तथा सबसे लंबे समय तक जनसेवा करने वाले सांसदों में की जाती है,वे वंचित वर्गों की आवाज़ मुखर करने वाले तथा हाशिए के लोगों के लिए सतत संघर्षरत रहने वाले जनसेवक थे.

अमेरिकी कवियित्री लुइस ग्लूक को इस साल साहित्य का नोबेल पुरस्कार मिलेगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने लिखा, “साथ में काम करना, पासवान जी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलना एक अविश्वसनीय अनुभव रहासाथ में काम करना, पासवान जी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलना एक अविश्वसनीय अनुभव रहा है। मंत्रिमंडल की बैठकों के दौरान उनके हस्तक्षेप व्यावहारिक थे। राजनीतिक ज्ञान, राज्य-कौशल से लेकर शासन के मुद्दों तक, वह प्रतिभाशाली थे। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना। शांति।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने ट्वीट किया, “भारतीय राजनीति व केंद्रीय मंत्रिमंडल में उनकी कमी सदैव बनी रहेगी भारतीय राजनीति व केंद्रीय मंत्रिमंडल में उनकी कमी सदैव बनी रहेगी और मोदी सरकार उनके गरीब कल्याण व बिहार के विकास के स्वपन्न को पूर्ण करने के लिए कटिबद्ध रहेगी। मैं उनके परिजनों और समर्थकों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ और दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना करता हूँ। ॐ शांति

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने ट्वीट किया, “केंद्रीय मंत्री श्री रामविलास पासवान जी का निधन मेरे लिए अत्यंत पीड़ादायक है,केंद्रीय मंत्री श्री रामविलास पासवान जी का निधन मेरे लिए अत्यंत पीड़ादायक है,अपने लम्बे राजनीतिक जीवन में उन्होंने हमेशा ग़रीबों, दलितों एवं वंचितों के कल्याण के लिए काम किया,उनकी गिनती बिहार की मिट्टी से जुड़े क़द्दावर नेताओं में थी और उनके सभी दलों के साथ अच्छे सम्बंध थे.

यह भी पढ़े:-

कोरोना के खिलाफ जंग में एकजुटता के लिए उत्तर रेलवे ने कोरोना अभियान शुरू किया

5G Technologies और सूचना तकनीक से जुड़ी ढांचागत सुविधाएं तैयार करने के लिए साथ मिलकर काम करेंगे,भारत और जापान

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ facebook page like ਅਤੇ twitter follow




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *