NGT ने Delhi NCR में आधी रात से 30 नवंबर तक सभी पटाखे (Firecrackers) बेचने NGT ने Delhi NCR में आधी रात से 30 नवंबर तक सभी पटाखे (Firecrackers) बेचने
BREAKING NEWS
Search

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
NGT ने Delhi NCR में आधी रात से 30 नवंबर तक सभी पटाखे (Firecrackers) बेचने और चलाने पर पूर्ण पाबंदी लगाई

NGT ने Delhi NCR में आधी रात से 30 नवंबर तक सभी पटाखे (Firecrackers) बेचने और चलाने पर पूर्ण पाबंदी लगाई

11

AZAD SOCH :-

NEW DELHI :- नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (National Green Tribunal) (NTR) ने दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी खेतर(ऐनसियार) (NCR) में 9 नवंबर आधी रात से ले कर 30 नवंबर आधी रात तक हर तरह के पटाख़ों (Firecrackers) की बिक्री और प्रयोग पर पाबंदी लगा दी है,इस से पहले दिल्ली की केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) ने सूबो में पटाखे (Firecrackers) बेचने पर पाबंदी लगाई थी,NGT ने देश के 18 सूबों को पटाखे चलाने पर रोक बारे नोटिस भेज जवाब माँगा था,जिस में ख़ुद आधे सूबों ने पटाखे चलाने पर पाबंदी लगाई है.

परन्तु उत्तर परदेस समेत कई ओर सूबों ने अजय इस सम्बन्धित कोई फ़ैसला नहीं लिया,NGT के अनुसार, न सिर्फ़ दिल्ली -ऐनसियार (DELHI-NCR) बल्कि देश भर के उन सभी शहरों में पटाख़े (Firecrackers) चलाने पर पाबंदी होगी जो NGT के ताज़ा हुक्मों के दायरो में आऐंगे,दिल्ली में हवा की गुणवत्ता का स्तर निरंतर बिगड़ता जा रहा है, एक्यूआई ज़्यादातर क्षेत्रों में 400 से पार हो गई है.

यह भी पढ़े:- हरियाणा सरकार ने दिवाली पर दो घंटे पटाखे चलाने की छूट

प्रातःकाल शाम ज़्यादातर क्षेत्र में समोग होता है,स्मोकिंग न होने के कारण विज़ीबिलटी में भी कमी नहीं हुई,इन शहरों में पटाख़े सिर्फ़ दीवाली पर ही नहीं बल्कि क्रिसमस और नये साल पर भी नहीं चलेंगे,विवाह समागमों के समय भी पटाख़े (Firecrackers) चलाने की मनाही होगी,NGT के अनुसार, किसी भी सहर में पटाख़े (Firecrackers) चलाने पर पाबंदी लगाने का यह आधार बनेगा.

यह भी पढ़े:- 

Punjab,Haryana समेत उत्तर भारतीय सूबों में Air Pollution का ख़तरनाक स्तर लोगों को घरों में रहने की सलाह

Punjab,Haryana समेत उत्तर भारतीय सूबों में Air Pollution का ख़तरनाक स्तर लोगों को घरों में रहने की सलाह

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ facebook page like ਅਤੇ twitter follow





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *