अदालत ने Actor Sonu Sood के खिलाफ जांच के आदेश दिए गए हैं अदालत ने Actor Sonu Sood के खिलाफ जांच के आदेश दिए गए हैं
BREAKING NEWS
Search

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
SONU SOOD NEWS

अदालत ने Actor Sonu Sood के खिलाफ जांच के आदेश दिए गए हैं

3

AZAD SOCH:-

NEW MUMBAI,(AZAD SOCH NEWS):- बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने महाराष्ट्र सरकार को बड़ा निर्देश दिया है,उच्च न्यायालय ने अभिनेता सोनू सूद (Actor Sonu Sood) के खिलाफ कोरोना वायरस (Corona Virus) की दवाओं की आपूर्ति की जांच के आदेश दिए हैं,महाराष्ट्र सरकार को निर्देश दिए गए हैं,अदालत ने सोनू सूद के साथ कांग्रेस विधायक जीशान सिद्दीकी (Congress MLA Zeeshan Siddiqui) की भूमिका की भी जांच करने को कहा,कोर्ट ने यह भी कहा कि इन लोगों ने खुद को एक तरह के मसीहा के तौर पर पेश किया था।

और इस बात की कोई जांच नहीं हुई कि क्या दवाएं नकली थीं और क्या आपूर्ति जायज थी,बता दें कि जब कोरोना अपने चरम पर था तब सोनू सूद ने लोगों की काफी मदद की थी,अभिनेता सोनू सूद (Actor Sonu Sood) ने सोशल मीडिया (Social Media) पर मदद मांगने वालों को कोरोना वायरस (Corona Virus) से जुड़ी दवाएं मुहैया कराई थीं।

अभिनेता सोनू सूद (Actor Sonu Sood) ने लोगों को बड़ी मात्रा में रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remedesivir Injection) और ऑक्सीजन सिलेंडर (Oxygen cylinder) दिए,इस संबंध में महाधिवक्ता आशुतोष कुंभकोनी (Advocate General Ashutosh Kumbakoni) ने बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) के जस्टिस एसपी देशमुख और जीएस कुलकर्णी (Justices SP Deshmukh And GS Kulkarni) की पीठ को बताया था कि महाराष्ट्र सरकार ने सिद्दीकी को रेमडेसिविर की आपूर्ति करने के लिए चैरिटेबल ट्रस्ट बीडीआर फाउंडेशन (Charitable Trust BDR Foundation) और उसके ट्रस्टियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

मेट्रोपॉलिटन कोर्ट (Metropolitan Court) में दायर किया गया है,इसके बाद पीठ ने महाराष्ट्र सरकार को जांच करने का निर्देश दिया,महाधिवक्ता आशुतोष कुंभकोनी (Advocate General Ashutosh Kumbakoni) ने कहा कि सिद्दीकी केवल उन नागरिकों को दवाएं दे रहे थे जो उनके संपर्क में थे, इसलिए उनके खिलाफ अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

उन्होंने कहा कि अभिनेता सोनू सूद (Actor Sonu Sood) ने ग्रेगांव (Gregaon) स्थित लाइफलाइन केयर अस्पताल (Lifeline Care Hospital) स्थित विभिन्न दवा भंडारों से दवाएं प्राप्त की थीं,फार्मा कंपनी सिप्ला (Pharma company Cipla) ने इन फार्मेसियों को रेमडेसिविर की आपूर्ति की थी और मामले की जांच की जा रही है,वह कोविड-19 महामारी (Covid-19 Epidemic) से निपटने के लिए आवश्यक दवाओं और संसाधनों के प्रबंधन से जुड़े कई मुद्दों पर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट (High Court) के पिछले आदेशों का जवाब दे रहे थे।

Also Read :-

ਬੀਤੇ ਦਿਨੀਂ ਅਸਾਮ ਅਤੇ ਚੀਨ ਬਾਰਡਰ ‘ਤੇ ਸ਼ਹੀਦ ਹੋਏ ਫੌਜੀ ਗੁਰਨਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਦੀ ਮ੍ਰਿਤਕ ਦੇਹ ਪਹੁੰਚੀ ਜੱਦੀ ਪਿੰਡ,ਇਲਾਕੇ ਵਿਚ ਸੋਗ ਦੀ ਲਹਿਰ

ਨੂਰਪੁਰ ਬੇਦੀ ਦੇ ਸਿੱਖ ਰੈਜੀਮੈਂਟ ਦਾ ਜਵਾਨ ਗੁਰਨਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਦੀ ਅਸਾਮ ਚੀਨ ਬਾਰਡਰ ‘ਤੇ ਹੋਈ ਮੌਤ

Punjab Vigilance Bureau ਨੇ ਮਈ ਮਹੀਨੇ ਦੌਰਾਨ 12 ਰਿਸ਼ਵਤ ਦੇ ਮਾਮਲਿਆਂ ‘ਚ 18 ਅਧਿਕਾਰੀਆਂ ਤੇ 4 ਨਿੱਜੀ ਵਿਅਕਤੀਆਂ ਨੂੰ ਕੀਤਾ ਗ੍ਰਿਫਤਾਰ

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ Facebook Page Like ਅਤੇ Twitter Follow




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *