Punjab Olympic Association ने विशेष प्रस्ताव पास कर महान एथलीट मिलखा सिंह Punjab Olympic Association ने विशेष प्रस्ताव पास कर महान एथलीट मिलखा सिंह
BREAKING NEWS
Search

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Punjab Olympic Association India

Punjab Olympic Association ने विशेष प्रस्ताव पास कर महान एथलीट मिलखा सिंह के देहांत पर गहरा दुख प्रकट किया

4

AZAD SOCH:-

Chandigarh, June 22:(AZAD SOCH NEWS):- पंजाब ओलम्पिक एसोसिएशन (Punjab Olympic Association) ने एक विशेष प्रस्ताव के द्वारा भारत के महान एथलीट श्री मिलखा सिंह के अकाल प्रस्थान पर गहरा दुख प्रकट किया,मिलखा सिंह का बीती 18 जून को देहांत हो गया था,पंजाब ओलम्पिक एसोसिएशन द्वारा जल्द ही पंजाब ओलम्पिक भवन, मोहाली में एक ’हॉल ऑफ फेम’ का उद्घाटन किया जायेगा, जहाँ हॉकी में तीन ओलम्पिक स्वर्ण पदक जीतने वाले सव. बलबीर सिंह सीनियर, श्री मिलखा सिंह और ओलम्पिक चैंपियन श्री अभिनव बिंद्रा के बुत स्थापित करके सम्मानित किया जायेगा।


पंजाब ओलम्पिक एसोसिएशन के वर्किंग प्रधान श्री ब्रह्म मोहिन्द्रा, सीनियर उप-प्रधान श्री राजदीप सिंह गिल और महासचिव राजा के.एस. सिद्धू ने साझे बयान में कहा कि युवक सेवाएं विभाग के अतिरिक्त डायरेक्टर और स्कूल शिक्षा विभाग के डिप्टी डायरेक्टर (खेल) के तौर पर सेवा निभा चुके मिलखा सिंह ओलम्पिक खेल के एथलेटिक्स फ़ाईनल में चौथे स्थान पर आने वाले पहले भारतीय एथलीट थे,1960 की रोम ओलम्पिक्स में 400 मीटर दौड़ में दौड़ते हुए उन्होंने फ़ाईनल में मौजूदा ओलम्पिक रिकॉर्ड तोड़ते हुए चौथा स्थान हासिल किया था,उनका यह रिकॉर्ड 40 सालों से अधिक समय तक बना रहा।


वह एशियन खेल और राष्ट्रमंडल खेल दोनों में एथलैटिक्स में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय थे,मिलखा सिंह ने 1958 के टोकियो एशियाई खेल और 1962 के जकार्ता एशियाई खेल में दो-दो स्वर्ण पदक जीते,उन्होंने 1958 में कार्डिफ राष्ट्रमंडल खेल में भी स्वर्ण पदक जीते,उनको 1959 में भारत सरकार द्वारा पद्मश्री के साथ नवाजा गया,उन्होंने आगे कहा कि स. मिलखा सिंह ने देश के हज़ारों खिलाड़ियों को अपने सपनों को पूरा करने और कभी हार न मानने के लिए प्रेरित किया।

वह एक प्रसिद्ध चैंपियन थे जो विनम्रता भरी शुरुआत से उभरे, दुखों से गुज़रे और अपने जीवन में दृढ़ता, मेहनत और कभी भी हार न मानने वाले किरदार निभाकर महान बने,पंजाब ओलम्पिक एसोसिएशन द्वारा स. मिलखा सिंह और श्रीमती निर्मल मिलखा सिंह के अकाल प्रस्थान पर उनके पुत्र जीव मिलखा सिंह और उसके परिवार के साथ दुख साझा किया गया।

ਇਹ ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ :-

ਤਜਿੰਦਰਪਾਲ ਤੂਰ ਨੇ ਟੋਕੀਓ ਓਲੰਪਿਕ ਲਈ ਕੁਆਲੀਫਾਈ ਕੀਤਾ,ਖੇਡ ਮੰਤਰੀ ਰਾਣਾ ਗੁਰਮੀਤ ਸਿੰਘ ਸੋਢੀ ਵੱਲੋਂ ਵਧਾਈਆਂ

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ Facebook Page Like ਅਤੇ Twitter Follow




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *