Tokyo Olympics: महिला हॉकी टीम पर इनामों की बारिश,महिला Hockey Team Tokyo Olympics: महिला हॉकी टीम पर इनामों की बारिश,महिला Hockey Team
BREAKING NEWS
Search
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Tokyo Olympics Rain of prizes on women's hockey team, Manohar Lal Khattar's big announcement for women's hockey team

Tokyo Olympics: महिला हॉकी टीम पर इनामों की बारिश,महिला Hockey Team के लिए मनोहर लाल खट्टर का बड़ा ऐलान

8

AZAD SOCH:-

CAHNDIGARH,(AZAD SOCH NEWS):- भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Women’s Hockey Team) का टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में कांस्य पदक जीतने का सपना टूट गया है, लेकिन भारतीय लड़कियों ने देश का दिल जीत लिया है,भारतीय एथलीटों ने टोक्यो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन कर इतिहास रच दिया है,ग्रेट ब्रिटेन (Great Britain) ने शुक्रवार को कांस्य पदक (Bronze Medal) के मुकाबले में भारतीय महिला हॉकी टीम को 4-3 से हरा दिया,लेकिन भारतीय महिला हॉकी टीम ने ब्रिटेन को कड़ी टक्कर दी,इस बीच, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हरियाणा हॉकी खिलाड़ियों के लिए 50-50 लाख रुपये की घोषणा की है,उन्होंने टोक्यो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन के लिए भारतीय टीम को बधाई भी दी।

ALSO READ:- भारतीय महिला हॉकी टीम ओलंपिक मेडल से चूकने पर भावुक हुईं भारत की बेटियां,कांस्य पदक जीतने का सपना टूट गया

आपको बता दें कि भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Women’s Hockey Team) इस तरह इतिहास रचने से चूक गई,पहली बार भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Women’s Hockey Team) को ओलंपिक पदक जीतने का मौका मिला, जिससे वह चूक गई,महिला टीम अपना तीसरा ओलंपिक खेल रही थी,उल्लेखनीय है कि भारतीय पुरुष हॉकी टीम (Indian Women’s Hockey Team) ने गुरुवार को यहां टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में जर्मनी को हराकर 41 साल बाद ओलंपिक कांस्य पदक (Olympic Bronze Medal) जीतकर पदक के सूखे को समाप्त किया,1980 के मास्को ओलंपिक के बाद यह भारत का पहला ओलंपिक हॉकी पदक (Olympic Hockey Medals) है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar) ने ओलंपिक में चौथे स्थान पर रहकर अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम को बधाई दी,भारतीय टीम कांस्य पदक के मुकाबले में ब्रिटेन (Britain) से 3-4 से हार गई,हरियाणा और पंजाब में खिलाड़ियों के परिवार भारत की जीत की आस में टीवी के सामने नजरें गड़ाए बैठे रहे।

इतिहास रचने से चूक गईं बेटियां

भारतीय महिला हॉकी टीम इस तरह ओलंपिक (Olympic) में इतिहास रचने से चूक गई,भारतीय महिला हॉकी टीम (Indian Women’s Hockey Team) के पास पहली बार ओलंपिक (Olympic) में मेडल जीतने का मौका था, जो हाथ से निकल गया,बता दें कि महिला टीम अपना तीसरा ओलंपिक खेल रही थी,हालांकि पहली बार ओलंपिक (Olympic) के सेमीफाइनल में पहुंचकर भारतीय महिला टीम ने इतिहास रच दिया था।

यह महिला हॉकी टीम का तीसरा ओलंपिक

यह भारत का तीसरा ओलंपिक (Olympic) था,मास्को (1980) के 36 साल के बाद उसने रियो ओलंपिक (Olympic 2016) के लिए क्वालीफाई किया था,भारत अंतिम रूप से चौथे स्थान पर रहा था,लेकिन उस साल बहिष्कार के कारण सिर्फ छह टीमों ने ओलंपिक में हिस्सा लिया था,इसके बाद भारत ने 2016 के रियो ओलंपिक (Rio Olympics) के लिए क्वालीफाई (Qualify) किया, लेकिन वह 12 टीमों के टूर्नामेंट में अंतिम स्थान पर रही थी,भारत को पूल स्तर पर पांच मैचों में सिर्फ एक ड्रॉ नसीब हुआ था।

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ Facebook Page Like ਅਤੇ Twitter Follow




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *