कांग्रेस सांसद और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष Rahul Gandhi आज जाएंगे Lakhimpur Kheri कांग्रेस सांसद और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष Rahul Gandhi आज जाएंगे Lakhimpur Kheri
BREAKING NEWS
Search
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Congress MP and former party president Rahul Gandhi will visit Lakhimpur Kheri today to meet the relatives of the deceased farmers

कांग्रेस सांसद और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष Rahul Gandhi आज जाएंगे Lakhimpur Kheri,मृतक किसानों के परिजनों से करेंगे मुलाकात

4

AZAD SOCH:-

NEW DELHI,(AZAD SOCH NEWS):-  कांग्रेस सांसद और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former President Rahul Gandhi) बुधवार को लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) जाएंगे, जहां वे मृतक किसानों के परिजनों से मुलाकात करेंगे,राहुल गांधी की अगुवाई में 5 सदस्यीय कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल भी लखीमपुर खीरी का दौरा करेगी,बताया जा रहा है कि कांग्रेस पार्टी की ओर से 5 लोगों के जाने की इजाजत मांगी गई है,राहुल गांधी के अलावा भूपेश बघेल, सचिन पायलट, चरणजीत चन्नी भी लखनऊ जा सकते हैं.

ALSO READ:- Priyanka Gandhi की नजरबंदी पर बोलते हुए Rahul Gandhi ने कहा,”जिसे हिरासत में लिया गया है वह डरता नहीं है- वह एक सच्चा कांग्रेसी है

जिसके बाद वह करीब दोपहर 12. 30 बजे लखनऊ के लिए रवाना हो सकते हैं.इससे पहले लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) की घटना पर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि किसानों को गाड़ी से कुचलने वाले केंद्रीय मंत्री के पुत्र को हिरासत में नहीं लिए जाने का मतलब यह है कि देश का संविधान खतरे में है,उन्होंने जोर देकर यह भी कहा कि प्रियंका गांधी एक सच्ची कांग्रेसी हैं और डरने वाली नहीं हैं तथा उनका सत्याग्रह जारी रहेगा.

ALSO READ:- Youth Akali Dal ਅਤੇ S.O.I ਵੱਲੋਂ ਕੇਂਦਰੀ ਗ੍ਰਹਿ ਰਾਜ ਮੰਤਰੀ ਦੇ ਪੁੱਤਰ ਵੱਲੋਂ ਲਖੀਮਪੁਰ ਖੇੜੀ ਵਿਚ ਕਿਸਾਨਾਂ ਦਾ ਕਤਲ ਕਰਨ ਵਿਰੁੱਧ ਕੈਂਡਲ ਮਾਰਚ

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में किसानों को गाड़ी से कुचलने से संबंधित एक कथित वीडियो को साझा करते हुए फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘एक मंत्री का बेटा अगर अपनी गाड़ी के नीचे सत्याग्रही किसानों को कुचल दे,तो देश का संविधान ख़तरे में है,अगर वीडियो के सामने आने के बाद भी उसे हिरासत में ना लिया जाए तो देश का संविधान ख़तरे में है,अगर एक महिला नेता को 30 घंटे तक बिना प्राथमिकी के हिरासत में रखा जाए तो देश का संविधान ख़तरे में है.’’

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) जिले के तिकोनिया क्षेत्र में रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे के विरोध को लेकर भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी. इस मामले में मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है.

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ Facebook Page Like ਅਤੇ Twitter Follow




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *