G20 Summit: अफगानिस्तान संकट पर G-20 की महत्वपूर्ण बैठक आज, PM Modi G20 Summit: अफगानिस्तान संकट पर G-20 की महत्वपूर्ण बैठक आज, PM Modi
BREAKING NEWS
Search
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
G20 Summit: अफगानिस्तान संकट पर G-20 की महत्वपूर्ण बैठक आज, PM Modi करेंगे शिकरत

G20 Summit: अफगानिस्तान संकट पर G-20 की महत्वपूर्ण बैठक आज, PM Modi करेंगे शिकरत

4

AzadSoch:-

New Delhi,(Azad Soch News):- G20 Summit: US, France, China, India, Australia, Germany, Japan समेत दुनिया की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं वाले देश Italy की अगुवाई में हो रही अहम बैठक के लिए जमा होंगे,इस महीने के आखिर में रोम में होने वाली जी-20 शिखर (G-20 Summit) बैठक से पहले दुनिया की 80 फीसद अर्थव्यवस्था को नियंत्रित करने वाले मुल्क वर्चुअल बैठक के मंच पर मिलेंगे, खास तौर पर अफगानिस्तान के हालात पर चर्चा के लिए बुलाई गई इस बैठक को पीएम मोदी भी संबोधित करेंगे.

जी-20 देशों की यह आपात और महत्वपूर्ण बैठक जहां अफगान लोगों के लिए गहरे मानवीय संकट में मदद के उपाय जुटाने का प्रयास करेगी,वहीं तालिबानी (Taliban) निजाम पर अंतरराष्ट्रीय मानकों के मुताबिक बर्ताव करने का दबाव भी बनाएगी,सूत्रों का कहना है कि भारत अफगान लोगों के साथ खड़ा रहा है,ऐसे में सत्ता परिवर्तन और तालिबान के आने से उपजे अफगानिस्तान Afghanistan) के मौजूदा हालात में भारत अफगान लोगों तक मदद मुहैया कराने का रास्ता लगातार तलाशता रहेगा.

ALSO READ:- ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਚਰਨਜੀਤ ਸਿੰਘ ਚੰਨੀ ਨੇ ਅੱਤਵਾਦੀ ਹਮਲੇ ਵਿੱਚ ਸ਼ਹੀਦ ਹੋਏ ਜਵਾਨਾਂ ਦੇ ਪਰਿਵਾਰਾਂ ਨੂੰ ਵਿੱਤੀ ਸਹਾਇਤਾ ਅਤੇ ਨੌਕਰੀ ਦਾ ਕੀਤਾ ਐਲਾਨ

अफगानिस्तान (Afghanistan) पर तालिबानी नियंत्रण लगभग दो महीने पूरे करने जा रहा है,अमेरिकी सेनाओं की वापसी और बड़े पैमाने पर मची अफरा-तफरी के बीच तालिबानी निजाम ने काबुल के सत्ता की चाबी हाथ में तो ले ली,लेकिन अफगानिस्तान (Afghanistan) के तबियत सुधारने का तालिबान के पास न कोई नुस्खा है और न दवाई,ऐसे में अफगानिस्तान को गहराते मानवीय संकट से बचाने के उपायों पर मंथन के लिए 12 अक्टूबर को भारत समेत जी-20 समूह देशों के नेता विशेष बैठक के लिए जुट रहे हैं.

अमेरिका (America) समेत कई देश फिलहाल सीधे तौर पर तालिबान राज को आर्थिक मदद देने के बजाए, गैर-सरकारी रास्तों से सहायता उपलब्ध कराने पर जोर दे रहे हैं. जापान, इटली, ब्रिटेन समेत कई देशों ने अफगानिस्तान (Afghanistan) में मानवीय सहायता और स्वास्थ्य सेवाओं के लिए मदद के मिशन दोबारा शुरु करने पर रजामंदी जताई है.

भारत ने बीते दो दश्कों में करोड़ों डॉलर की लागत वाली सहायता परियोजनाएं अफगानिस्तान (Afghanistan) में चलाई हैं,इनके तहत जहां कई अहम सड़क, बांध व बिजली परियोजनाएं बनाई गईं,वहीं सैटेलाइट (Satellite) से लेकर शिक्षा सुविधाओं तक अनेक मदद के मिशन चलाए. हालांकि बदले हालात में भारत के लिए बड़ा संकट सुरक्षा का है,स्वाभाविक तौर पर भारत अफगानिस्तान (Afghanistan) के मौजूदा हालात पर मुतमईन हो जाने तक मदद के उपायों के लिए अपने लोगों की जान जोखिम में डालने को तैयार नहीं है.

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ Facebook Page Like ਅਤੇ Twitter Follow




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *