महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख की गिरफ्तारी की वजह से एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार भारतीय जनता पार्टी को इसकी कीमत चुकाने तक की चेतावनी दे डाली - AZAD SOCH महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख की गिरफ्तारी की वजह से एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार भारतीय जनता पार्टी को इसकी कीमत चुकाने तक की चेतावनी दे डाली - AZAD SOCH
BREAKING NEWS
Search
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख की गिरफ्तारी की वजह से एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार भारतीय जनता पार्टी को इसकी कीमत चुकाने तक की चेतावनी दे डाली

महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख की गिरफ्तारी की वजह से एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार भारतीय जनता पार्टी को इसकी कीमत चुकाने तक की चेतावनी दे डाली

2

Azad Soch:-


New Delhi,(Azad Soch News):- NCP Chief Attack on BJP: महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख की गिरफ्तारी की वजह से एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार भारतीय जनता पार्टी पर बौखलाए हुए हैं. उन्होंने साफतौर पर बीजेपी को इसकी कीमत चुकाने तक की चेतावनी दे डाली. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, एनसीपी अध्यक्ष ने बुधवार को कहा- “महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख पर झूठे आरोपों के बाद पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्नर फरार हैं. वे उन आरोपों को साबित करने के लिए सामने नहीं आ रहा है. आप (बीजेपी) ने अनिल देशमुख को जेल में डाल दिया है. आपने जो कुछ भी किया है, उसकी आपको कीमत चुकानी होगी.”

उन्होंने यह बयान नागपुर में एनसीपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ये बयान दिया है. इसके साथ ही, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने बुधवार को कहा कि अगले आम चुनाव में संभावित भाजपा विरोधी गठबंधन का नेतृत्व कौन करेगा? यह कोई मुद्दा नहीं है और लोगों को उनकी इच्छानुसार राजनीतिक विकल्प देने की जरूरत है.

अमरावती और महाराष्ट्र के कुछ अन्य स्थानों पर हाल की हिंसा को बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए राकांपा प्रमुख ने कहा कि सरकार को ऐसी नीति बनानी चाहिए जिसमें ऐसी घटनाओं के शिकार दुकानदारों और व्यापारियों को मुआवजा दिया जा सके. पवार ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री और राकांपा नेता अनिल देशमुख के साथ ‘‘अन्याय’’ हुआ. देशमुख धन शोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद वर्तमान में न्यायिक हिरासत में जेल में हैं.

पवार ने नागपुर विदर्भ चैंबर ऑफ कॉमर्स (एनवीसीसी) के प्रतिनिधियों से मुलाकात की, जिन्होंने महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में हाल की हिंसा पर चिंता जताई और कहा कि निर्दोष दुकानदार और व्यापारी हिंसा का शिकार होते हैं तथा कोई गलती नहीं होने के बावजूद उन्हें नुकसान होता है.

पत्रकारों ने पवार से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विरोधी गठबंधन के संभावित गठन के बारे में पूछा और यह भी सवाल किया कि क्या पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उस मोर्चे का नेतृत्व कर सकती हैं? इस पर राकांपा प्रमुख ने कहा कि गठबंधन के मुद्दे पर संसद के आगामी सत्र में चर्चा की जाएगी. पवार ने कहा, ‘‘उस गठबंधन का नेता कौन होगा यह कोई मुद्दा नहीं है. आज लोगों को उनकी इच्छा के अनुसार एक विकल्प देने की जरूरत है और हम लोगों की आकांक्षा को पूरा करने के लिए विभिन्न दलों का समर्थन लेंगे.’’




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *