दिल्ली विधानसभा की Peace and Harmony Committee ने Kangana Ranaut दिल्ली विधानसभा की Peace and Harmony Committee ने Kangana Ranaut
BREAKING NEWS
Search
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Bollywood actress Kangana Ranaut

दिल्ली विधानसभा की Peace and Harmony Committee ने बॉलीवुड एक्ट्रेस Kangana Ranaut को समन जारी किया

0

AZAD SOCH:-

New Delhi,(AZAD SOCH NEWS):- दिल्ली विधानसभा (Delhi Assembly) की पीस एंड हार्मनी कमेटी (Peace and Harmony Committee) ने बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Bollywood Actress Kangana Ranaut) को समन जारी किया है,कंगना रनौत को 6 दिसंबर को दोपहर 12 बजे तक कमेटी के सामने पेश होने को कहा गया है,समिति के अध्यक्ष आप विधायक राघव चड्ढा हैं,समन सिख समुदाय पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणियों के कारण जारी किया गया था।

कंगना रनौत ( Kangana Ranaut) ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम (Social Media Platform Instagram) पर कथित तौर पर सिख समुदाय के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी,दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (Delhi Sikh Gurdwara Management Committee) ने इस संबंध में मंदिर मार्ग पुलिस थाने की साइबर सेल (Cyber ​​Cell) में शिकायत दर्ज कराई थी,अभिनेत्री ने सिख समुदाय (Sikh Community) के खिलाफ अपमानजनक और अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया।

ALSO READ:- ਵੀਡੀਓ:- ਦਿੱਲੀ ਸਿੱਖ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਮੈਨੇਜਮੈਂਟ ਕਮੇਟੀ ਵਲੋਂ ਕੰਗਨਾ ਰਣੌਤ ਖ਼ਿਲਾਫ਼ FIR ਦਰਜ ਕਰਵਾਈ ਗਈ,ਹੁਣ ਜਲਦ ਜਾਵੇਗੀ ਜੇਲ੍ਹ, ਦਰਜ ਹੋਈ FIR

मोदी सरकार द्वारा कृषि अधिनियम (Agriculture Act) को निरस्त करने की घोषणा के बाद कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने किसान आंदोलन की तुलना खालिस्तानी आंदोलन (Khalistani Movement) से की,जिसके बाद उनके खिलाफ देश के अलग-अलग हिस्सों में कई एफआईआर दर्ज की गईं,दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (Delhi Sikh Gurdwara Management Committee) की एक शिकायत के अनुसार, इस तरह के पोस्ट जानबूझकर सिख समुदाय (Post Deliberate Sikh Community) की भावनाओं को आहत करने के लिए पाए गए हैं,इसके बाद इन्हें शेयर भी किया गया।

गौरतलब है कि कंगना रनौत ने अपने फेसबुक अकाउंट (Facebook Account) से किसानों के मुद्दे पर एक विवादित पोस्ट (Disputed Post) में लिखा था, ”खालिस्तानी आतंकवादी आज भले ही सरकार के हाथ मरोड़ रहे हों लेकिन हमें उस महिला (इंदिरा गांधी) को नहीं भूलना चाहिए, जिसने उन्हें अपना हक दिया,जूतों के नीचे कुचल दिया गया था लेकिन अपनी जान की कीमत पर उसने उन्हें मच्छरों की तरह कुचल दिया लेकिन देश को टुकड़े-टुकड़े नहीं होने दिया,उनकी मृत्यु के एक दशक बाद भी वे उनके नाम से कांपते हैं, उन्हें ऐसे गुरु की आवश्यकता है।

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ update ਲਈ Facebook Page Like ਅਤੇ Twitter Follow




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *