America में Cardboard से बढ़ा प्रदूषण, एक साल में Switzerland के क्षेत्रफल के America में Cardboard से बढ़ा प्रदूषण, एक साल में Switzerland के क्षेत्रफल के
BREAKING NEWS
Search
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.

Live Clock Date

Your browser is not supported for the Live Clock Timer, please visit the Support Center for support.
Cardboard increased pollution in America, boxes used equal to the area of ​​Switzerland in one year

America में Cardboard से बढ़ा प्रदूषण,एक साल में Switzerland के क्षेत्रफल के बराबर इस्‍तेमाल हुए Boxes

8

AZAD SOCH:-

AZAD SOCH NEWS:- दुनियाभर में लॉकडाउन (Lockdown) में छूट मिलने के बाद से लोग जमकर खरीदारी कर रहे हैं, ई-कॉमर्स (E-Commerce) के जरिए लोग अब घर पर ही सभी तरह के जरूरी सामान मंगा लेते हैं,सामान को घर तक पहुंचाने के लिए कंपनियां किसी न किसी तरह के बॉक्‍स (Boxes) का इस्‍तेमाल करती है,इन बॉक्‍स की जरूरत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बड़ी कंपनियों ने माल रखने के कंटेनर और बॉक्‍स (Containers And Boxes) बनाने के लिए कागज मिल और कारखाने तक खोल लिए हैं. 

अमेरिका (America)की बात करें तो साल 2020 में माल रखने के लिए 40 अरब बॉक्‍स का इस्‍तेमाल किया गया,इनकी संख्‍या इतनी ज्‍यादा है कि अगर इन्‍हें साथ में रखा जाए तो ये एक स्विटजरलैंड (Switzerland) के बराबर (407 अरब वर्गफीट) की जगह कवर कर सकते हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 से 18 साल के बच्चों को बूस्टर डोज का टीका लगाने की बड़ी घोषणा की

अमेरिकियों ने साल 1999 में शॉपिंग के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे,फाइबर बॉक्स एसोसिएशन के मुताबिक इस साल पिछले कई सालों के रिकॉर्ड टूटने को अनुमान है,एसोसिएशन की रिपोर्ट के मुताबिक साल 2021 के पहले छह महीनों में बॉक्स का उपयोग 3.9% अधिक रहा,अमेरिका में जितनी तेजी से शॉपिंग के रिकॉर्ड टूट रहे हैं वह कहीं न कही प्रदूषण को भी बढ़ावा दे रहे हैं,सामान रखने के लिए कागज और कार्ड बोर्ड के बॉक्‍स प्रदूषण को तेजी से बढ़ा रहे हैं.

अमेरिका के दक्षिण कैरोलिना (South Carolina, USA) में तीन समूहों ने न्‍यू इंडी कंपनी के खिलाफ मुकदमा दायर किया है,इन कंपनियों पर आरोप है कि उन्‍होंने अपनी कागज मिल में कंटेनर बोर्ड बनाना शुरू किया है,याचिका में कहा गया है कि इन मिल के कारण हवा में प्रदूषण का स्‍तर खतराक हो गया है और लोगों की सेहत पर बुरा असर पड़ रहा है,राज्‍य सरकार को कंपनी के पास रहने वाले लोगों से इस साल अब तक 17 हजार शिकायतें मिल चुकी हैं,शिकायत के जरिए कहा गया है हवा में दुर्गंध बढ़ गई है और कई लोगों को सांस संबंधी शिकायतें भी सामने आई हैं.

AZAD SOCH :- E-PAPER

ਹੋਰ ਵਧੇਰੇ ਖ਼ਬਰਾਂ ਅਤੇ Update ਲਈ Facebook Page Like ਅਤੇ Twitter Follow




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *